scorecardresearch
 

कब होगा देश से नक्सलवाद का संपूर्ण अंत?

कब होगा देश से नक्सलवाद का संपूर्ण अंत?

छत्तीसगढ़ के नक्सली हमले में अब तक 22 जवान अपने प्राणों का सर्वोच्च बलिदान दे चुके हैं और 31 घायल हैं. सवाल ये उठता है कि आखिर कहां चूक हो गई. क्यों बार बार नक्सली हमारे जवानों पर हमला करने में कामयाब हो जाते हैं. और फिर ऐसी खबरें आती है. आज गृहमंत्री अमित शाह ने बीजापुर और जगदलपुर में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी और घायलों से उनका हाल पूछा. इन सबके बीच केंद्रीय गृहमंत्री ने नक्सलियों के सफाए में जुटे जिम्मेदार अधिकारियों के साथ मीटिंग की और इस समस्या के संपूर्ण निपटारे पर रणनीति तय की. वहीं से नक्सलियों को साफ संदेश दिया. सवाल ये उठता है कि आखिर चूक कहां हो रही है. क्यों नकस्ली अभी तक देश के लिए बड़ी समस्या बने हुए हैं. देखिए देश का गौरव.

Union Home Minister Amit Shah said on Monday that the fight against Maoists will be intensified in the coming days. Amit Shah, who flew to Chhattisgarh on Monday, two days after the April 3 attack at Tarrem in Sukma where 22 security personnel were killed, said the killings were 'an act of desperation by the Maoists' and the fight will soon take a decisive turn. But the question arises that why Naxals are still active in different areas of the country? Watch this video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें