scorecardresearch
 

चाल चक्र: जानें श्रृंगार कैसे बदल सकता है आपका भाग्य

चाल चक्र: जानें श्रृंगार कैसे बदल सकता है आपका भाग्य

चाल चक्र में आज बात करेंगे कैसे श्रृंगार आपका भाग्य बदल सकता है. सिन्दूर को सुहाग का सर्वोच्च प्रतीक मना जाता है, बिना सिन्दूर के वैवाहिक जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती. सिन्दूर-बिंदी का प्रयोग करने से सौभाग्य बना रहता है तथा पति पत्नी के बीच प्रेम सम्बन्ध बढ़ता है. वैज्ञानिक नियमों के अनुसार , सिन्दूर मस्तक के बीचों बीच लगाने से शरीर की विद्युत ऊर्जा नियंत्रित होती है. साथ ही महिलाओं के धैर्य में वृद्धि होती है. अगर कुंडली में मंगल कमजोर हो तो सिन्दूर और अगर सूर्य कमजोर हो तो कुमकुम लगाना अच्छा होगा. सिन्दूर और बिंदी हमेशा स्नान के बाद लगानी चाहिए तथा पहले माँ गौरी को समर्पित करना चाहिए. प्रयास करना चाहिए की शुद्ध सिन्दूर या अच्छी बिंदी ही लगायी जाय न कि रसायन से बना हुआ कोई पदार्थ. देखें चाल चक्र.

In this episode of Chaal Chakra, we will talk about the astrological significance of traditional makeup. Pandit Shailendra Pandey will tell you how the usage of Sindoor-Bindi will bring fortune in your life. Also know your daily horoscope.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें