scorecardresearch
 

चाल चक्र

चाल चक्र: क्या अशुभ है दक्षिण दिशा के घर में रहना?

26 सितंबर 2020

चाल चक्र में आज बात करेंगे दक्षिण दिशा की. दक्षिण दिशा मुख्य चार दिशाओं में से एक मानी जाती है. यह याम देवता और पितरों की दिशा मानी जाती है. ज्योतिष में दक्षिण दिशा मंगल से सम्बन्ध रखती है. इस दिशा को सामान्यतः अच्छा नहीं माना जाता है. लोग दक्षिण मुख वाले प्लाट या मकान को लेने से बचते हैं. लोगों की मान्यता है कि दक्षिण मुख वाले मकान में रहने से जीवन में समस्यायें आनी शुरू हो जाएंगी. देखें रिपोर्ट.

आपके बच्चे के मानसिक विकास नहीं हो रहा? करें ये उपाय

25 सितंबर 2020

चाल चक्र में आज बात करेंगे बच्चे का मानसिक विकास में आ रही बाधाओं की. पंड‍ित शैलेंद्र पांडे बताएंगे कब बच्चे को मानसिक विकास और वाणी की समस्या होती है? बच्चों के अंदर ये समस्यायें क्यों पैदा होती हैं? क्या उपाय करें कि मानसिक रूप से कमजोर बच्चा पैदा न हो? अगर मानसिक रूप से कमजोर बच्चा पैदा हो गया हो तो क्या उपाय करें? साथ ही बात होगी आज के पंचांग और शुभ पहर की.

चाल चक्र: आपके नाम का क्या है भाग्य से संबंध?

24 सितंबर 2020

चाल चक्र के इस एपिसोड में बात करेंगे नाम के महत्व की. नाम किसी व्यक्ति के मानसिक और शारीरिक संरचना को व्यक्त करते हैं. केवल नाम से किसी व्यक्ति के जन्म-जन्मान्तर को जाना जा सकता है. नाम से व्यक्ति का स्वभाव आकार रूप रंग और गुण निर्धारित होते हैं. नाम काफी हद तक किसी व्यक्ति के भाग्य पर सीधा असर भी ड़ालता है. देखें रिपोर्ट.

राहु-केतु का राशि परिवर्तन: इन उपायों से मिलेगा लाभ

23 सितंबर 2020

आज चाल चक्र में बात करेंगे राहु-केतु के राशि परिवर्तन की करेंगे. हम आपको बताएंगे कि इस राशि परिवर्तन का प्रभाव कैसा है, और किस राशि के व्यक्ति को कैसा प्रभाव करना चाहिए ताकि राहु-केतु के राशि परिवर्तन से लाभ हो सके. अगले 18 महीनों तक राहु वृषि राशि और केतु वृश्चिक राशि में जा रहे हैं. ज्यादा जानकारी के लिए देखें वीडियो.

क्या है राहु-केतु का महापरिवर्तन? जानें, राशियों पर कैसे पड़ेगा असर

22 सितंबर 2020

साल 2020 बहुत सारे परिवर्तनों का साल है. इस साल ऐसे-ऐसे ग्रहों को परिवर्तन हो रहा है, जिनका गहरा असर हमारे जीवन पर पड़ सकता है. कल दो-दो ग्रहों का महापरिवर्तन होने जा रहा है और ये परिवर्तन करीब 18 महीने तक जीवन पर असर डालने वाला है. आज चाल चक्र में बात करेंगे राहु-केतु का महापरिवर्तन के बारे में. देखें कैसे राहु-केतु का महापरिवर्तन हमारे जीवन में कैसे असर डालेगा.

घरेलू नुस्खों से करें नौ ग्रहों को मजबूत, हर परेशानी होगी दूर

21 सितंबर 2020

आज चाल चक्र के इस एपिसोड में हम आपको बताएंगे कि कैसे घरेलू उपायूं से आप अपने नौ ग्रहों को कैसे शांत किया जाता है. जिसका सूर्य कमजोर हो, उसे सुबह सूर्य की रोशनी में जरूर बैठना चाहिए. सूर्य मजबूत करने के लिए सूर्यास्त से पहले ही भोजन करें. कहा जाता है कि अगर ग्रह मजबूत हों तो आप हर क्षेत्र में सफलता पाते हैं. आज चाल चक्र में जानें ग्रह मजबूत करने के आसान तरीके.

चाल चक्र: इन घरेलू नुस्खों से करें ग्रह मजबूत

21 सितंबर 2020

चाल चक्र में आज हम आपको बताएंगे कि आप घरेलू नुस्खों से अपने ग्रहों को मजबूत कर सकते हैं. साथ ही बताएंगे कि छोटे-छोटे उपायों से कैसे ग्रहों से जुड़ी परेशानी दूर होगी. बात करेंगे कि ग्रह मजबूत करने से किस क्षेत्र में आपको सफलता मिलेगी. इसके अलावा पंडित शैलेंद्र पांडेय से जानिए अपना दैनिक राशिफल. साथ ही इस एपिसोड में आप जानेंगे आज का पंचांग और कई सारी लकी टिप्स. देखिए चाल चक्र.

चाल चक्र: क्या है बच्चों की सफलता का ज्योतिष से संबंध?

20 सितंबर 2020

चाल चक्र में आज बात करेंगे बच्चों की सफलता के बारे में. बच्चों की सफलता तीन चीज़ों पर निर्भर करती है. उनका स्वास्थ्य, उनकी शिक्षा और करियर. स्वास्थ्य आता है शनि से, करियर बृहस्पति से और शिक्षा सूर्य से मिलती है. आम तौर पर केवल सूर्य को मजबूत होना बच्चे को औसत दर्जे की सफलता देता है. बृहस्पति का मजबूत होना बच्चे को स्वास्थ्य और शिक्षा में सफलता देता है पर करियर में देरी कराता है. शनि का मजबूत होना बच्चे को स्वास्थ्य और शिक्षा में संघर्ष कराता है पर करियर में बड़ी सफलता देता है. इन तीन में से अगर दो ग्रह मजबूत हों तो बच्चा उच्च स्तर की सफलता पाता है. देखें वीडियो.

चाल चक्र: नौ ग्रहों का रिश्तों से क्या है संबंध?

19 सितंबर 2020

चाल चक्र में आज बात करेंगे नौ ग्रहों के रिश्तों से सम्बन्ध की. हर ग्रह का एक ख़ास गुण होता है. उसी गुण से मिलता जुलता रिश्ता उस ग्रह से प्रभावित होता है. अगर रिश्ते से सम्बंधित ग्रह कमजोर हुआ तो रिश्ता बिगड़ जाता है. अगर कोई रिश्ता कमजोर हुआ तो सम्बंधित ग्रह भी कमजोर हो जाता है. अगर कोई ग्रह कुंडली में ख़राब है, तो उससे सम्बंधित रिश्ते को ठीक करके हम ग्रह को ठीक कर सकते हैं. देखें वीडियो.

मुश्किलें बढ़ाता है कमजोर शुक्र, जानें क्या हैं मजबूत करने के उपाय

18 सितंबर 2020

ज्योतिष में शुक्र वैभव, विलास, सुख, प्रेम और धन-संपत्ति का कारक माना जाता है. बिना शुक्र के कभी भी व्यक्ति को पारिवारिक सुख और पारिवारिक सुख की अनुभूति नहीं होती. शुक्र जीवन में सौंदर्य और विलासिता से सम्बन्ध रखता है. यह सुविधा के साथ साथ सुख भी देता है. चमकदार सफ़ेद रंग, काम भाव, प्रेम और हीरा शुक्र का ही अधिकार क्षेत्र है. शुक्र का सम्बन्ध गाल, ठुड्ढी, अंगूठे और गुर्दे से भी है. शुक्र शरीर के सारभूत तत्व वीर्य का स्वामी है. देखें शुक्र के कारण जीवन में किस किस तरह की बीमारियां आती हैं? साथ ही जानें दैनिक राशिफल.

अधिक मास में ईश्वर की कृपा, इन कामों को करने से होगा लाभ

17 सितंबर 2020

हिन्दू पंचांगों में बारह मास होते हैं. यह सूर्य की संक्रांति और चन्द्रमा पर आधारित होते हैं. हर वर्ष सूर्य और चन्द्र मास में लगभग 11 दिनों का अंतर आ जाता है. तीन वर्ष में यह अंतर लगभग एक माह का हो जाता है इसलिए हर तीसरे वर्ष अधिक मास आ जाता है. इसको लोकाचार में मलमास भी कहा जाता है. इस बार आश्विन में अधिक मास रहेगा. यह 18 सितम्बर से 16 अक्टूबर तक रहेगा. जानें इसका महत्व. साथ ही जानें दैनिक राशिफल.