scorecardresearch
 

Swarm ड्रोन का उपयोग सेना में ही नहीं बल्कि आपदा में भी किया जा सकता है: समीर जोशी

इंडिया टुडे कॉन्क्लेव (India Today Conclave 2021) के 19वें संस्करण का शुक्रवार को आगाज हुआ. इस कॉन्क्लेव में IdeaForge के को-फाउंडर और CEO अंकित मेहता और Newspace Research & Technologies के CEO समीर जोशी ने Eye in the Sky टॉपिक पर बात की.

X
Sameer Joshi Sameer Joshi
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ड्रोन का यूज आने वाले टाइम में काफी होने वाला है
  • ड्रोन से भारतीय सेना को काफी मदद मिल रही है
  • आपदा के समय भी ड्रोन का यूज किया जा सकता है

इंडिया टुडे कॉन्क्लेव (India Today Conclave 2021) के 19वें संस्करण का शुक्रवार को आगाज हुआ. इस कॉन्क्लेव में IdeaForge के को-फाउंडर और CEO अंकित मेहता और Newspace Research & Technologies के CEO समीर जोशी ने Eye in the Sky टॉपिक पर बात की.

इसमें भारत में ड्रोन रेवोल्यूशन और दूसरे बिंदुओं पर बात की गई. इस कॉन्क्लेव में अंकित मेहता ने बताया कि ड्रोन का यूज अब भारतीय सेना भी कर रही है. लद्दाख में भारतीय सेना के लिए ड्रोन काफी उपयोगी साबित हो रहा है.

उन्होंने बताया कि इस सिस्टम की वजह से उन्हें (भारतीय सेना) कठिन पर्यावरणीय परिस्थितियों में ऊंचाई पर नजर रखने में काफी मदद मिल रही है. ड्रोन से सेना दूसरी तरफ देखने का एक अलग व्यू मिलता है. इससे दूसरी तरफ क्या हो रहा है ये आसानी से पता चल जाता है.

Swarm ड्रोन को लेकर समीर जोशी ने बताया. उन्होंने बताया इस ड्रोन का भविष्य में सिर्फ सेना ही नहीं बल्कि आपदा के समय बचाव में किया जा सकेगा. उन्होंने ड्रोन के उपयोग पर बताया कि नेचुरल डिजास्टर के समय इसका काफी यूज किया जा सकता है.

भूकंप से लेकर बाढ़ तक में ड्रोन सटीक जानकारी दे सकता है. अंकित मेहता ने कहा कि ड्रोन को इस तरह से डेवलप किया जा रहा है ताकि वो हमेशा उपलब्ध हो. इससे एक्सपीरिएंस बदलने वाला है. इसके जरिए माइन्स में आदमी से पहले पहुंचा जा सकता है.

उन्होंने बताया हर 15 मिनट में भारत में Idea Forge एक ड्रोन लॉन्च करता है. उन्होंने Rhino ड्रोन फ्लाइंग का लाइव डेमोनेस्ट्रेशन भी दिखाया. ड्रोन मुंबई में उड़ रहा था जबकि अंकित इसे दिल्ली में कॉन्क्लेव में बैठ कर अपने फोन से कंट्रोल कर रहे थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें