scorecardresearch
 
टेक न्यूज़

WhatsApp में मैसेज के लिए जल्द आ सकता है ये बेहद काम का फीचर, जानें डिटेल

WhatsApp
  • 1/6

WhatsApp ने हाल ही में घोषणा की है कि चैट बैकअप्स के लिए आने वाले हफ्तों में एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन को रोलआउट कर दिया जाएगा. इस बीच अब जानकारी मिली है कि कंपनी वॉयस मैसेज ट्रांसक्रिप्शन फीचर पर भी काम कर रही है. ये फीचर अभी अंडर डेवलपमेंट है और इसे WaBetaInfo ने स्पॉट किया है.

WhatsApp
  • 2/6

हालांकि, क्लाउड बैकअप्स के लिए एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन फीचर को iOS और एंड्रॉयड दोनों के लिए ही लॉन्च किया जाएगा. लेकिन, वॉयस मैसेज ट्रांसक्रिप्शन फीचर को फिलहाल केवल ऐप के iOS वर्जन पर ही स्पॉट किया गया है.

WhatsApp
  • 3/6

रिपोर्ट के मुताबिक ये फीचर ऑप्शनल होगा और इसे जल्द ही WhatsApp के iOS बीटा यूजर्स के लिए उपलब्ध कराया जाएगा. वहीं, प्राइवेसी के लिहाज से रिपोर्ट में कहा गया है कि वॉयस मैसेज और डेटा फेसबुक के साथ शेयर नहीं किए जाएंगे. क्योंकि, ये मैसेज Apple द्वारा ट्रांसक्राइब किए जाएंगे. इससे ऐपल को भी स्पीच रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी को इंप्रूव करने में मदद मिलेगी.

WhatsApp
  • 4/6

रिपोर्ट में कहा गया है कि ऑप्शन के तौर पर मौजूद रहेगा. यानी यूजर्स किसी वॉयस मैसेज को ट्रांसक्राइब करना चाहेंगे तो उन्हें डिवाइस की स्पीच रिकॉग्निशन टेक्नोलॉजी का एक्सेस वॉट्सऐप को देना होगा.

WhatsApp
  • 5/6

जैसे ही यूजर्स परमिशन देंगे वे ट्रांसक्रिप्शन सर्विस को इस्तेमाल कर पाएंगे. फिर जैसे ही यूजर्स किसी वॉयस मैसेज प्ले करेंगे, स्क्रीन पर 'ट्रांसक्रिप्ट' सेक्शन पॉप-अप हो जाएगा. यहां यूजर्स मैसेज को पढ़ पाएंगे. सोर्स ने ये भी कहा है कि यूजर्स वॉयस मैसेज को किसी भी पॉइंट से पढ़ पाएंगे.

WhatsApp
  • 6/6

WaBetaInfo ने कहा है कि जब एक मैसेज पहली बार ट्रांसक्रिप्ट होगा, इसका ट्रांसक्रिप्शन लोकल तौर पर वॉट्सऐप डेटाबेस में सेव होगा. ऐसे में अगर आप बाद में ट्रांसक्रिप्शन को देखना चाहेंगे तो इसे दोबारा ट्रांसक्रिप्ट करने की जरूरत नहीं पड़ेगी. एंड्रॉयड यूजर्स के लिए इस फीचर को कब लाया जाएगा. फिलहाल इसकी जानकारी नहीं है.