scorecardresearch
 
टेक न्यूज़

Battlegrounds Mobile चीनी सर्वर पर भेज रहा है डेटा, क्या फिर से लगेगा बैन?

Battlegrounds Mobile India
  • 1/8

Battlegrounds Mobile India या PUBG Mobile के अर्ली वर्जन को गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध करवा दिया गया है. ये यूजर्स के बीच काफी पॉपुलर भी हो रहा है. अब इसको लेकर एक रिपोर्ट सामने आई है. रिपोर्ट के अनुसार Battlegrounds Mobile India का डेटा चीनी सर्वर पर जा रहा है. 

 
 

Battlegrounds Mobile India
  • 2/8

IGN India की एक रिपोर्ट के अनुसार Battlegrounds Mobile India APK पर चीनी सर्वर से डेटा आ और जा रहा है. ये डेटा बीजिंग में स्थित चीनी मोबाइल कम्युनिकेशन सर्वर पर ट्रांसफर हो रहा है. इसके अलावा ये हांगकांग में स्थित Tencent-run Proxima Beta और यूएस, मुंबई और मास्को में स्थित Microsoft Azure सर्वर पर स्टोर होता है. 
 

IGN Report on BGMI
  • 3/8

इस रिजल्ट को देखने के लिए IGN India ने एक डेटा पैकेट स्निफर ऐप का यूज एंड्रॉयड फोन पर किया. इस से किसी सर्वर पर डिवाइस कम्युनिकेट करता है वो पता चल जाता है. रिपोर्ट के अनुसार Battlegrounds Mobile India खेलने के बाद उन्होंने पैकेट स्निफर का लॉग चेक किया. 
 

Battlegrounds Mobile India
  • 4/8

सर्वर के रिजल्ट को whois से सर्च किया गया. इसमें पाया गया है एक लॉग चीनी मोबाइल कम्युनिकेशन कॉपोर्रेशन का है. ये सर्वर चीनी स्टेट ओन्ड कंपनी और चीन के बीजिंग में स्थित है. इसको लेकर स्क्रीनशॉट भी शेयर किया गया है. 
 

Battlegrounds Mobile India
  • 5/8

इतना ही नहीं, Battlegrounds Mobile India गेम स्टार्ट होने से टाइम बीजिंग में स्थित Tencent सर्वर पर पिंग कर रहा था. 
 

Battlegrounds Mobile India
  • 6/8

Krafton ने ये कहा है वो Battlegrounds Mobile India यूजर्स के डेटा को इंडिया और सिंगापुर के सर्वर पर स्टोर करेगा. इसके साथ ये भी कहा गया है कंपनी डेटा को दूसरे देशों में ट्रांसफर कर सकती है. 
 

Battlegrounds Mobile India
  • 7/8

पिछले साल PUBG Mobile को भारत में 117 ऐप्स के साथ बैन किया गया था. भारत और चीन के बीच विवाद के बाद इस फैसले को लिया गया. इसमें ऐप्स इंडियन यूजर्स के डेटा को चीन में स्टोर कर रहा था. 
 

Battlegrounds Mobile India
  • 8/8

Krafton ने फिर भारत के लिए पुराना गेम नए नाम से तैयार किया. अब जब इसका डेटा भी चीनी सर्वर में सेंट और रिसीव किया जा रहा है तो हो सकता है इस गेम को भी आने वाले टाइम में भारत सरकार बैन कर दें या फिर डेटा सर्वर कंपनी चीन से हटा लें.