scorecardresearch
 

Google Pixel 4a Review: क्या उम्मीदों पर खरा उतरता है ये फोन?

Google Pixel 4a Review: गूगल ने इस बार भारत में अपना फ्लैगशिप तो नहीं लॉन्च किया, लेकिन कंपनी ने Pixel 4a लॉन्च किया है. ये मिड रेंज स्मार्टफोन है. क्या ये गूगल फैंस के उम्मीदों पर खरा उतरता है?

Google Pixel 4a Google Pixel 4a
स्टोरी हाइलाइट्स
  • Pixel 4a Review: क्या सिंगल रियर कैमरे के साथ दूसरों को टक्कर देगा?
  • Pixel 4a के डिजाइन में कुछ खास नहीं, लेकिन परफॉर्मेंस अच्छा
  • Pixel 4a के साथ सॉफ्टवेयर एक्सपीरिएंस कैसा?

Google ने कुछ समय पहले भारत में Pixel 4a लॉन्च किया है. Pixel फैंस थोड़े निराश दिखे, क्योंकि कंपनी ने Pixel 5 भारत में लॉन्च नहीं किया.

Google ने हालाँकि इस बार Pixel 4a की क़ीमत कंट्रोल में रखी है. ये ज़्यादा महँगा नहीं है और इसे मिड रेंज स्मार्टफ़ोन कहा जा सकता है. फ़ोन को मैंने यूज किया है और इस आधार पर इसका रिव्यू बताते हैं.

Pixel 4a के साथ सबसे अच्छी बात ये है कि अगर आप इसे एक हाथ से यूज कर सकते हैं. फ़ोन पतला है, हल्का है और काफ़ी हैंडी. यहाँ तक की कई बार ये फ़ोन नहीं किसी खिलौने जैसा लगता है.

Pixel 4a - डिजाइन

फ़ोन पीछे से मैट ब्लैक फिनिश वाला लगता है और  इसके रियर पैनल पर सिंगल कैमरा सेटअप दिया गया है. बॉडी पॉलीकार्बोनेट की है और डिज़ाइन में कुछ क्रांतिकारी नहीं है.

हालाँकि देखने में ऐसा लगता है कि इसमें दो कैमरे होंगे, क्योंकि यहाँ स्क्वॉयर शेप दिया गया है.

सिंगल कैमरा और एलईडी फ़्लैश है. फ़िंगरप्रिंट स्कैनर भी पीछे ही दिया गया है और नीचे की तरफ़ गूगल की ब्रांडिंग है. फ़ोन के बॉटम में स्पीकर ग्रिल के साथ USB Type C पोर्ट दिया गया है.

दाईं तरफ वॉल्यूम रॉकर कीज़ और पावर बटन दिया गया है. हमेशा की तरह गूगल ने इस बार भी पावर बटन बॉडी से हट कर लाइट कलर का दिया गया है.

फ़ोन बिना कवर यूज करने में मज़ा आएगा. स्क्रैच आसानी से नहीं लगते हैं और ये स्लिपरी भी नहीं है, हाथ से आसानी से नहीं गिरेगा और ग्रिप भी अच्छी बनी रहेगी.

फ़ोन में हेडफ़ोन भी दिया गया है और ओवरऑल ये फ़ोन बेहद कॉम्पैक्ट और ड्यूरेबल दिखता है.

इस बार कंपनी ने Pixel 4a में नॉच कम देने की कोशिश की है. लेकिन फिर भी चिन और ऊपर की तरफ़ पतले बेजल्स दिए गए हैं. डिस्प्ले के लिए OLED पैनल का इस्तेमाल किया गया है.

Pixel 4a डिस्प्ले

डिस्प्ले साइज़ 5.81 का OLED डिस्प्ले है और ये फ़ुल एचडी प्लस है. एचडीआर का सपोर्ट भी दिया गया है. इससे पहले तक के पिक्सल स्मार्टफोन्स में बेजल्स होते थे, लेकिन इसे बेजल लेस कहा जा सकता है.

प्रोटेक्शन के लिए इसमें Corning Gorilla Glass 3 दिया गया है जो अब पुराना हो चुका है. कंपनी को नए वर्जन का गोरिल्ला ग्लास लगाना चाहिए था.

बहरहाल फ़ोन यूज करने में इसकी डिस्प्ले काफ़ी शानदार लगती है. डिस्प्ले ब्राइट और कलरफुल है, एमडीआर बेस्ड OTT कंटेंट बढ़िया से देख सकते हैं, लेकिन डिस्प्ले छोटी होने की वजह से आप शायद इस पर फ़िल्में देखने प्रेशर न करें.

ऑलवेज ऑन डिस्प्ले का फ़ीचर दिया गया है. यहां आपको बैटरी लेवल, टाइम और दूसरी ज़रूरी जानकारियाँ दिखाई देती हैं.

पुराने पिक्सल की तरह इसमें भी म्यूजिक डिटेक्शन ऑन कर सकते हैं. यानी कोई गाना चल रहा है तो इसे आपका फ़ोन डिटेक्ट करके ऑलवेज ऑन डिस्प्ले पर शो करेगा.

ओवरऑल फोन की डिस्प्ले अच्छा है और मैंने ज़्यादातर इसे डार्क मोड पर यूज किया है. कुछ लाइव वॉलपेपर्स शानदार हैं जो रियलटाइम होते हैं. पिक्सल ख़रीदे तो इसे आप ज़रूर ट्राई करें.

Pixel 4a कैमरा 

Google Pixel को काफ़ी पहले से बेहतर कैमरा फ़ोन कहा जाता है. चूँकि कंपनी ने एक ही सेंसर दे कर पहले भी लोगों को फोटॉग्रफी के मामले में चौंकाया है. बेहतर क्वॉलिटी फ़ोटोज, पोर्ट्रेट मोड और नाइट मोड के मामले में इसका कोई तोड़ नहीं रहा है.

इंप्रेसिव ये है कि एक तरफ़ कंपनियाँ तीन, चार और पाँच कैमरे दे रही हैं वहीं कंपनी एक कैमरे और सॉफ़्टवेयर के बदौलत शानदार फ़ोटोज़ दे रहा है. इस फ़ोन के साथ थोड़ा पर्सेप्शन बदलेगा, शायद.

Pixel 4a के रियर में  12.2 मेगापिक्सल का कैमरा है, जबकि फ़्रंट में 8 मेगापिक्सल का कैमरा है. इस दौर में मुझे नहीं लगता इस क़ीमत पर किसी दूसरे स्मार्टफोन्स में सिर्फ़ एक रियर कैमरा दिया जा रहा है. लेकिन क्या एक कैमरा ही दूसरों पर भारी पड़ता है?

इस कैमरे से आप 4K वीडियो 30fps पर शूट कर सकते हैं. फ़ोटो क्लिक करना आसान और फ़ास्ट है. चूँकि लेंस एक ही इसलिए आपको पास अलग अलग लेंस को यूज करने के लिए उस तरह से मोड्स भी नहीं हैं.

पोर्ट्रेट शॉट एक कैमरे के बावजूद हमेशा की तरह पिक्सल फ़ोन में शानदार है. डेप्थ सेंसिंग लेंस की कमी जरा भी नहीं खलती है. वाइड एंगल लेंस की कमी पूरी तरह से आपको खलेगी.

मैक्रो फोटॉग्रफी भी करते हैं तो इसमें मैक्रो लेंस नहीं है और इसकी भी कमी महसूस हो सकती है. लेकिन ज़्यादा नहीं होगी, क्योंकि नज़दीक से फ़ोटोज़ अच्छी आती हैं.

क्लिक की गई तस्वीरों में बाद में भी आप बैकग्राउंड ब्लर या बोके इफ़ेक्ट डाल सकते हैं.

नॉर्मल आउटडोर फोटॉग्रफी सॉलिड है और बेहतरीन तस्वीरें क्लिक कर सकते हैं. फ़ोटोज़ में पर्याप्त डीटेल्स होते हैं और ख़ास बात ये है कि फ़ोटोज बनावटी नहीं लगेंगी.

नाइट साइट मोड गूगल पिक्सल की ख़ासियत रही है और दूसरी कंपनियों ने यहाँ से काफ़ी कुछ कॉपी किया है. अंधेरे में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बदौलत अच्छी तस्वीरें क्लिक कर सकते हैं. थोड़ा सब्र रखने की ज़रूरत होगी.

सिंगल कैमरा होने की वजह से आपको यहाँ ऑप्टिकल और हाईब्रिड ज़ूम भी नहीं मिलते हैं. हालांकि आप 7X तक डिजिटल ज़ूम कर सकते हैं, लेकिन ये किसी ख़ास काम का नहीं है.

ओवरऑल इस सेग्मेंट में एक सिंगल कैमरा होने के बावजूद ये स्मार्टफ़ोन फोटॉग्रफी के लिहाज़ से अच्छा है. फ़ोटोज़ क्लिक करना आसान है, फ़ास्ट है और इसमें कुछ मोड्स दिए गए हैं जो आपके लिए बेहद फ़ायदेमंद है.

फ़ोटोज़ ज़ूम करने पर पिक्सलेट नहीं होंगी, नाइट साइट मोड में क्लिक की गई तस्वीरों में आपको ज़्यादा ग्रेन्स नहीं दिखेंगे. कम रौशनी में भी आप अच्छी फोटॉग्रफी कर सकेंगे.

Google Pixel 4a - परफ़ॉर्मेंस - सॉफ़्टवेयर

Pixel 4a में Qualcomm Snapdragon 730 प्रोसेसर दिया गया है और इसमें 6GB रैम है. इंटर्नल स्टोरेज 128GB की है. गूगल फोटोज में हाई क्वॉलिटी इमेज अनलिमिटेड अपलोड कर सकते हैं.

गूगल ने हाल ही में हाई क्वॉलिटी इमेज अपलोड पर 15GB की लिमिट लगा दी है जो अगले साल से लागू होगा. लेकिन Pixel के साथ अच्छी बात ये है कि हाई क्वॉलिटी फ़ोटोज़ आगे भी आप अनलिमिटेड क्लाउड पर अपलोड कर सकेंगे.

Google Pixel 4a में Android 11 दिया गया है और ये शानदार है. गूगल ने अपने पिक्सल स्मार्टफ़ोन में सॉफ़्टवेयर को इतनी ख़ूबसूरती से सिंक किया है जो वाकई क़ाबिले तारीफ़ है.

सॉफ़्टवेयर बेस्ड कई फ़ीचर्स हैं Pixel 4a में जो आपको दूसरे एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में नहीं मिलेंगे. ऑडियो में आप रियल टाइम सबटाइटल ऐड कर सकते हैं. इसके साथ ही आप कॉल ट्रांसक्रिप्ट का भी फ़ीचर दिया गया है. ये सटीक है,

बहरहाल सॉफ़्टवेयर के अलावा परफ़ॉर्मेंस के लिहाज़ से भले ही इसमें मिड रेंज प्रोसेसर है, लेकिन फिर भी ये आपको निराश नहीं करेगा. गेमिंग के लिए ये प्रैक्टिकल फ़ोन नहीं है, क्योंकि इसकी स्क्रीन छोटी है तो आपको उतना मज़ा नहीं आएगा.

गेमिंग कर सकते हैं और हेवी गेम भी चलेंगे, लेकिन अगर आप गेमर्स हैं तो शायद ये फ़ोन आपके लिए नहीं है.

इसमें स्टॉक एंड्रॉयड है यानी पहले से इंस्टॉल किए गए ऐप्स नहीं मिलेंगे और ये सबसे अच्छी बात है. जेस्चर कंट्रोल अच्छा काम करता है और ये फ़ास्ट है. गूगल असिस्टेंट भी स्मूद और फ़ास्ट काम करता है.

फ़ोन फ़ास्ट और स्मूद है, गर्म नहीं होगा, मल्टी टास्किंग आराम से कर सकते हैं. एक ऐप से दूसरे ऐप में स्विच करना फ़ास्ट है, लोडिंग टाइम कम है. सॉफ़्टवेयर मक्खन की तरह काम करता है.

हेवी यूज में ये स्मार्टफ़ोन कई बार थोड़ा फीका पड़ता है और यहीं हाई एंड प्रोसेसर की कमी खलती है. इसमें 5G का भी सपोर्ट नहीं है यानी फ़ोन फ्यूचर रेडी नहीं है. अगर भारत में 2021 या 2022 तक 5G आ गया तो आपको फ़ोन बदलने की ज़रूरत होगी.

Pixel 4A - बैटरी बैकअप

Pixel 4a में 3,100mAh की बैटरी दी गई है और ये 18W फास्ट चार्ज सपोर्ट करता है. ऑलवेज ऑन डिस्प्ले ऐक्टिवेट रखने के बाद आप इसे मिक्स्ड यूज में पूरे दिन आराम से चला सकेंगे.

ऑलवेज ऑन डिस्प्ले ऑफ रख कर आप इससे ज़्यादा बैकअप निकाल सकते हैं. कंपनी हालाँकि दावा किया था कि फ़ुल चार्ज करके 24 घंटे तक चला सकेंगे. लेकिन हमारे रिव्यू में ऐसा नहीं हो पाया है.

ओवरऑल बैटरी बैकअप इस फ़ोन की डीसेंट है, लेकिन और बेहतर की जा सकती थी. पिछले पिक्सल के मुक़ाबले ये निश्चित तौर पर ज़्यादा बैकअप देता है.

बॉटम लाइन

Pixel 4a - पिक्सल के फ़ैन हैं तो फिर आपको किसी तरह का रिव्यू शायद ही आपको ये स्मार्टफ़ोन ख़रीदने से रोक पाए. लेकिन अगर आप मार्केट देख कर तय करेंगे तो इस लिहाज़ से इस फ़ोन में कुछ कमियाँ ज़रूर दिखेंगे.

बावजूद इसके, Pixel 4a इस सेग्मेंट का एक अच्छा कैमरा फ़ोन है. परफ़ॉर्मेंस अच्छा है और चूँकि फ़ोन काफ़ी कॉम्पैक्ट है, इसलिए यूज करने में काफ़ी मज़ा आएगा. गूगल का प्योर सॉफ़्टवेयर एक्सपिरिएंस चाहिए तो ऐसे में भी ये फ़ोन आपके लिए बेहतर रहेगा.

आज तक रेटिंग - 8/10

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें