scorecardresearch
 

PM मोदी ने हॉकी टीम की कप्तान रानी और कोच से की बात, कहा- दुखी न हों, हार और जीत जीवन का हिस्सा

टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में अर्जेंटीना से हार के बाद निराश हुई भारतीय महिला हॉकी टीम का मनोलब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बढ़ाया है.

भारतीय महिला हॉकी टीम का पीएम मोदी ने बढ़ाया मनोबल ( फोटो- एपी) भारतीय महिला हॉकी टीम का पीएम मोदी ने बढ़ाया मनोबल ( फोटो- एपी)
1:01
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पीएम मोदी की रानी रामपाल से बात
  • हॉकी टीम का बढ़ाया मनोबल
  • बोले- जीत-हार जिंदगी का हिस्सा

टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में अर्जेंटीना से हार के बाद निराश हुई भारतीय महिला हॉकी टीम का मनोलब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बढ़ाया है. सोशल मीडिया पर ट्वीट के बाद पीएम ने हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल और कोच Sjoerd Marijne से फोन पर बात की है. पीएम ने टीम को बेहतरीन प्रदर्शन के लिए बधाई दी है.

पीएम मोदी की हॉकी टीम की कैप्टन रानी रामपाल से बात

प्रधानमंत्री ने रानी को फोन पर कहा है कि हमे आपके प्रदर्शन पर गर्व है. आपकी पूरी टीम स्किल से भरी हुई है जिन्होंने काफी मेहनत की है. अब उन्हें आगे देखना चाहिए. हार-जीत तो जिंदगी का हिस्सा, हमे दिल छोटा नहीं करना है.  इससे पहले ट्वीट कर भी पीएम मोदी ने हॉकी टीम का मनोबल बढ़ाया था. उन्होंने कहा था कि ये ओलंपिक हम अपने प्लेयर्स की बेहतरीन परफॉर्मेंस के लिए हमेशा याद रखेंगे. आज महिला हॉकी टीम ने भी शानदार स्किल्स दिखाए हैं. हमे उन पर गर्व है. आपको आने वाले गेम के लिए शुभकामनाएं.

मैच में क्या रहा?

सेमीफाइनल मैच की बात करें तो भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए अर्जेंटीना पर शुरुआती बढ़त बना ली थी. पहले सेशन के दौरान महिला टीम ने पूरा दबदबा बनाए रखा था. लेकिन फिर अर्जेंटीना ने पलटवार किया और कम अंतराल में दो गाल दाग दिए. दूसरे क्वार्टर में अर्जेंटीना की टीम ने शानदार वापसी की. खेल के 18वें मिनट में अर्जेंटीना को पेनल्टी कॉर्नर मिला, जिसे कप्तान मारिया नोएल बैरियोन्यूवो ने गोल पोस्ट में डालकर टीम को 1-1 की बराबरी दिला दी. इसके बाद दूसरे क्वार्टर में भारतीय टीम को दो पेनल्टी कॉर्नर जरूर मिले, लेकिन वह गोल नहीं कर सकी. फिर तीसरे क्वार्टर में एक और गोल दाग अर्जेंटीना ने भारत पर बढ़त बना ली जो अंत तक कायम रही. मौके तो कई बार बने, लेकिन भारतीय टीम ने उन्हें गोल में तब्दील नहीं किया. वहीं दूसरी तरफ अर्जेंटीना को कई पेनाल्टी मिलीं और उन्होंने उसका भरपूर फायदा भी उठाया.

अब कांस्य पदक के लिए शुक्रवार को भारत का मुकाबला ग्रेट ब्रिटेन से होगा. अगर वहां पर जीत हासिल हुई तो कांस्य पदक जरूर महिला टीम हिंदुस्तान लेकर आएंगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×