scorecardresearch
 

Tokyo Olympics: सिंधु गोल्ड से दो कदम दूर, यामागुची को हरा सेमीफाइनल में भारतीय शटलर

स्टार भारतीय शटलर पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में अपना सुनहरा प्रदर्शन जारी रखते हुए सेमीफाइनल में जगह बना ली है. शुक्रवार को खेले गए क्वार्टर फाइनल मुकाबले में उन्होंने चौथी वरीयता प्राप्त जापान की अकाने यामागुची को 21-13, 22-20 से हराया.

P V Sindhu (Getty) P V Sindhu (Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सिंधु का टोक्यो ओलंपिक में सुनहरा प्रदर्शन जारी
  • क्वार्टर फाइनल में जापान की यामागुची को मात दी

स्टार भारतीय शटलर पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में अपना सुनहरा प्रदर्शन जारी रखते हुए सेमीफाइनल में जगह बना ली है. शुक्रवार को खेले गए क्वार्टर फाइनल मुकाबले में उन्होंने चौथी वरीयता प्राप्त जापान की अकाने यामागुची को 21-13, 22-20 से हराया. बैडमिंटन में भारत की एकमात्र बची उम्मीद सिंधु ने 56 मिनट में यह मुकाबला अपने नाम कर लिया. अब सेमीफाइनल में सिंधु का सामना 31 जुलाई को वर्ल्ड नंबर-1 चीनी ताइपे की ताइ जु यिंग से होगा. दोनों के बीच अब तक 18 मुकाबले हुए हें. ताइ जु यिंग ने 13 मैचों में जीत दर्ज की है, जबकि सिंधु को अपनी इस प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ सिर्फ 5 में जीत मिली है.

पहले गेम की शुरुआत में सिंधु ने कुछ गलतियां की, जिसका फायदा उठाते हुए यामागुची ने एक समय 6-4 की बढ़त ले ली. इसके बाद सिंधु इस गेम में शानदार वापसी करते हुए अंतराल के समय 11-7 से आगे हो गईं. सिंधु ने इस बढ़त को हाथ से जाने नहीं दिया और 18-11 से आगे हो गईं. सिंधु के शक्तिशाली स्मैश और क्रॉस कोर्ट शॉट्स का जापानी खिलाड़ी के पास कोई जवाब नहीं था. बाद में सिंधु ने लगातार तीन अंक हासिल कर पहले गेम को 23 मिनट में जीत लिया. 

दूसरे गेम में पीवी सिंधु ने शानदार शुरुआत करते 5-3 की बढ़त ले ली. फिर सिंधु ने इस बढ़त को लगातार बनाए रखते हुए 14-8 से आगे हो गईं. उस समय ऐसा लगने लगा कि सिंधु इस गेम को आसानी से जीत लेंगी. इसके बाद यामागुची ने गेम में बेहतरीन वापसी करते हुए 20-18 की बढ़त ले ली. अब जापानी खिलाड़ी के पास दूसरे गेम को जीतने का सुनहरा मौका था, मगर वह बड़े मैच का दबाव झेल नहीं पाई. सिंधु ने बेहतरीन स्मैश लगाते हुए लगातार चार अंक बटोरकर गेम और मैच अपने नाम कर लिया.

Akane Yamaguchi (Getty)

इस जीत के साथ ही वर्ल्ड नंबर-7 सिंधु ने अकाने यामागुची के खिलाफ अपना रिकॉर्ड 12-7 कर लिया है. इससे पहले सिंधु को इस जापानी खिलाड़ी के खिलाफ ग्यारह मुकाबलों में जीत हासिल हुई थी. इस साल ऑल इंग्लैंड चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में भी सिंधु ने यामागुची को पटखनी दी थी.

रियो ओलंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट सिंधु ने ग्रुप-जे में शीर्ष पर रहकर नॉकआउट के लिए क्वालिफाई किया था. रविवार को अपने शुरुआती मुकाबले में उन्होंने इजरायल की सेनिया पोलिकारपोवा को आसा कानी से 21-7, 21-10 से हराया था. इसके बाद बुधवार को अपने आखिरी ग्रुप मैच में उन्होंने हॉन्गकॉन्ग की च्युंग एनगान यी को 21-9, 21-16 से मात दी थी. फिर रांउड-16 में उन्होने डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्ट को 21-15, 21-13 से शिकस्त देकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया था.
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें