scorecardresearch
 

विंबलडनः महिला खिलाड़ियों को बिना अंडरवियर खेलने के लिए किया जाता है मजबूर!

पूर्व विंबलडन चैंपियन पैट कैश ने दावा किया है कि महिला टेनिस खिलाड़ियों को ऑल-व्हाइट ड्रेस कोड नीति के तहत ब्रा पहने बिना इस ग्रैंड स्लैम में खेलने के लिए मजबूर किया जाता है.

X
नाओमी ब्रॉडी नाओमी ब्रॉडी

पूर्व विंबलडन चैंपियन पैट कैश ने दावा किया है कि महिला टेनिस खिलाड़ियों को ऑल-व्हाइट ड्रेस कोड नीति के तहत ब्रा पहने बिना इस ग्रैंड स्लैम में खेलने के लिए मजबूर किया जाता है.

पैट ने इस नियम को बेतुका करार देते हुए बीबीसी रेडियो 5 लाइव को दिए इंटरव्यू में कहा, 'कुछ महिला खिलाड़ियों को मैच से ठीक पहले ब्रा और टॉप बदलने के निर्देश दिए गए, क्‍योंकि उनके अंडरगारमेंट्स थोड़े रंगीन नजर आ रहे थे. कुछ लड़कियों के पास सही स्‍पोर्ट्स ब्रा नहीं रहे होंगे और इस वजह से उन्‍हें बिना ब्रा के खेलना पड़ा. यह बड़ा ही बेतुका नियम है.'

पैट ने बताया, 'एक खिलाड़ी को रेफरी के ऑफिस में केवल इसलिए बुलाया गया, क्‍योंकि उसने ब्लू कलर की अंडरवियर पहन रखी थी. खेलते समय पसीना आने के कारण उसके अंडरवियर का कलर झलकने लगा, तो उसे बुलाकर रंगीन अंडरवियर नहीं पहनने की हिदायत दी गई.'

विंबलडन में ड्रेस कोड को लेकर विवाद कोई नया नहीं है, इससे पहले भी ऑल-व्हाइट ड्रेस कोड को लेकर विवाद हो चुके हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें