scorecardresearch
 

Tokyo Olympics: भारतीय हॉकी टीम का जोशीला खेल जारी, आखिरी पूल मैच में जापान को रौंदा

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक खेलों के पूल-ए के अपने आखिरी मैच में जापान को 5-3 से हराया. गुरजंत सिंह ने सर्वाधिक दो गोल दागे. 

India celebrate after scoring against Japan. (PTI) India celebrate after scoring against Japan. (PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारतीय पुरुष हॉकी का टोक्यो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन जारी है
  • पूल-ए के अपने आखिरी मुकाबले में मेजबान जापान को मात दी

भारतीय पुरुष हॉकी का टोक्यो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन जारी है. शुक्रवार को पूल-ए के अपने आखिरी मुकाबले में भारत ने मेजबान जापान को 5-3 से मात दी. भारत की ओर से गुरजंत सिंह(17वें एवं 56वें मिनट) ने सबसे ज्यादा दो गोल किए. गुरजंत के अलावा हरमनप्रीत सिंह ने 13वें, शमशेर सिंह ने 34वें और नीलकांत शर्मा ने 51वें मिनट में गोल दागे. दूसरी ओर जापान के लिए केंता तानाका ने 19वें, कोता वतानबे ने 33वें और काजुमा मुराता ने 59वें मिनट में स्कोर किया. .

भारत पहले ही क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह सुरक्षित कर चुका था, लेकिन इस जीत से वह बढ़े मनोबल के साथ अंतिम आठ के मुकाबले में उतरेगा. क्वार्टर फाइनल में भारत का सामना पूल-बी में तीसरे स्थान पर रहने वाली टीम ग्रेट ब्रिटेन से एक अगस्त को होगा. भारत ने पूल चरण में जापान के अलावा न्यूजीलैंड, स्पेन और अर्जेंटीना को हराया, लेकिन ऑस्ट्रेलिया से उसे हार का सामना करना पड़ा था.

ऐसा रहा मुकाबला -

पहले क्वार्टर में भारत का पूरी तरह दबदबा रहा. खेल के छठे मिनट में विवेक सागर प्रसाद के पास भारत को बढ़त दिलाने का मौका था, लेकिन वह जापानी गोलकीपर को मात नहीं दे पाए. खेल के 13वें मिनट में हरमनप्रीत सिंह ने पेनल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील कर भारत को 1-0 की बढ़त दिला दी. हरमनप्रीत सिंह का टोक्यो ओलंपिक में यह चौथा गोल था.

दूसरे क्वार्टर के खेल में दोनों ही टीमों ने आक्रामक हॉकी का प्रदर्शन किया. खेल के 17वें मिनट में सिमरनजीत सिंह के बेहतरीन पास पर गुरजंत सिंह ने स्कोर कर भारत को 2-0 की बढ़त दिला दी. दो मिनट बाद भारतीय डिफेंडर बीरेंद्र लाकड़ा से डिफेंस में गलती कर बैठे, जिसके चलते केंता तनाका ने गोल कर जापान टीम का खाता खोल दिया. 

खेल के 33वें मिनट में कोता वतानबे ने गोल कर जापान को बराबरी दिला दी. जापानी टीम की यह खुशी ज्यादा देर कायम नहीं रह पाई. अगले ही मिनट शमशेर सिंह ने नीलकांत शर्मा के पास को गोल में तब्दील कर भारत को 3-2 से आगे कर दिया. 

आखिरी क्वार्टर पूरी तरह भारत के पक्ष में रहा और उसमें टीम इंडिया ने दो गोल किए. खेल के 51वें मिनट में नीलकांत शर्मा ने सुरेंद्र कुमार के बेहतरीन पास पर गोल कर भारत को 4-2 से आगे कर दिया. फिर खेल के 56वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर गुरजंत ने गोल दागकर कर टीम को 5-2 की निर्णायक बढ़त दिला दी. खेल के 59वें मिनट में काजुमा मुराता ने जरूर एक शानदार गोल किया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी.

गौरतलब है कि भारत को पूल-ए में गत चैम्पियन अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, जापान, न्यूजीलैंड और स्पेन के साथ रखा गया है. दोनों ग्रुप से शीर्ष चार टीमें अगले चरण में पहुंचेंगी. ग्रुप-बी में बेल्जियम, कनाडा, जर्मनी, ब्रिटेन, नीदरलैंड और दक्षिण अफ्रीका हैं. भारत चार जीत और एक हार के साथ अपने ग्रुप में दूसरे स्थान पर रहा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें