scorecardresearch
 

बॉक्सिंग फेडरेशन के अध्यक्ष पद से जाजोदिया की हो गई छुट्टी

मुश्किलों का सामना कर रही भारतीय मुक्केबाजी में रवि‍वार को एक नया प्रशासनिक भूचाल आया, जब बॉक्सिंग इंडिया के अध्यक्ष संदीप जाजोदिया के खिलाफ यहां आम सभा की विशेष बैठक में भारी बहुमत से अविश्वास प्रस्ताव पास हो गया. जाजोदिया ने हालांकि इस कदम को गैरकानूनी करार दिया है.

संदीप जाजोदिया संदीप जाजोदिया

मुश्किलों का सामना कर रही भारतीय मुक्केबाजी में रवि‍वार को एक नया प्रशासनिक भूचाल आया, जब बॉक्सिंग इंडिया के अध्यक्ष संदीप जाजोदिया के खिलाफ यहां आम सभा की विशेष बैठक में भारी बहुमत से अविश्वास प्रस्ताव पास हो गया. जाजोदिया ने हालांकि इस कदम को गैरकानूनी करार दिया है.

जाजोदिया बैठक में नहीं आए लेकिन इस बैठक के लिए आम सभा के 64 सदस्यों में से 57 पहुंचे और उन्होंने अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 55-2 से मतदान किया. पश्चिम बंगाल के प्रतिनिधि असित बनर्जी ने कहा, 'आम सभा इस मुद्दे पर लगभग एकजुट थी. वह क्या कर सकते हैं यह दिखाने के लिए हमने उन्हें पर्याप्त समय दिया था लेकिन हाल में जो हुआ और जय कोवली के साथ कहासुनी ने साबित कर दिया कि हमने उन पर विश्वास करके गलती की.'

जाजोदिया ने आईओए पर निशाना साधते हुए कहा कि संस्था ने बॉक्सिंग इंडिया को मान्यता नहीं देकर और एआईबीए द्वारा बर्खास्त आईएबीएफ को मान्यता जारी रखकर संदिग्ध भूमिका निभाई. उन्होंने कहा, 'एआईबीए के बाक्सिंग इंडिया को जरूरी मान्यता देने के बावजूद भारतीय ओलंपिक संघ ने जानबूझकर बॉक्सिंग इंडिया को मान्यता नहीं दी और मुक्केबाजी के लिए खुद बनाई तदर्थ समिति को भंग नहीं किया. एआईबीए के आईओए को तदर्थ समिति भंग करने का स्पष्ट निर्देश देने के बावजूद ऐसा किया गया.'

इनपुट: भाषा

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें