scorecardresearch
 

PV Sindhu: पीवी सिंधु BWF के एथलीट कमीशन की मेंबर चुनी गई, अब अध्यक्ष बनने का भी मौका!

रियो ओलंपिक 2016 की रजत पदक विजेता सिंधु ने इस साल टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतकर इतिहास रच दिया था. इसके साथ ही वह दो ओलंपिक मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला एथलीट बन गई थीं.

X
PV sindhu (getty) PV sindhu (getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पीवी सिंधु BWF के एथलीट कमीशन की सदस्य बनीं 
  • साल 2025 तक रहेगा सिंधु का कार्यकाल

PV Sindhu:भारत की दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु को बैडमिंटन विश्व महासंघ (BWF) के एथलीट कमीशन का सदस्य नियुक्त किया गया है. 26 साल की पूर्व विश्व चैंपियन सिंधु को पांच अन्य खिलाड़ियों के साथ सदस्य नियुक्त किया गया, जिनका कार्यकाल 2025 तक होगा.

सोमवार को बीडब्ल्यूएफ ने बयान में कहा, 'बीडब्ल्यूएफ को एथलीट कमीशन 2021-2025 के छह सदस्यों की घोषणा करने की खुशी हैं. आइरिस वैंग (अमेरिका), रोबिन टेबलिंग (नीदरलैंड), ग्रेसिया पोली (इंडोनेशिया), किम सोयोंग (कोरिया), पीवी सिंधू (भारत) और झेंग सी वेई (चीन) का नाम इसमें शामिल है.'

इन छह सदस्यों के बीच से अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का फैसला किया जाएगा. बीडब्ल्यूएफ ने कहा, 'नया आयोग जल्द ही बैठक करेगा और छह सदस्यों के बीच से अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का फैसला किया जाएगा. बीडब्ल्यूएफ एथलीट आयोग का अध्यक्ष 2025 में होने वाले अगले चुनाव तक परिषद का सदस्य रहेगा.

रियो ओलंपिक 2016 की रजत पदक विजेता सिंधु ने इस साल टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतकर इतिहास रच दिया था. इसके साथ ही वह दो ओलंपिक मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला एथलीट बन गई थीं. प्रतिष्ठित विश्व चैंपियनशिप में सिंधु ने दो रजत, दो कांस्य और 2019 में स्वर्ण पदक सहित कुल पांच पदक जीते हैं.

हालांकि, 2021 के वर्ल्ड चैम्पियनशिप में सिंधु क्वार्टर फाइनल में ताई जू यिंग से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई थीं. सिंधु को 42 मिनट तक चले मुकाबले में 17-21, 13-21 से हार का सामना करना पड़ा. यह सिंधु की ताई जू यिंग के खिलाफ लगातार 5वीं हार थी. ताइवान की इस स्टार ने भारतीय शटलर के खिलाफ अपना रिकॉर्ड 15-5 कर लिया था.  विशेष रूप से, सिंधु अपने चिर प्रतिद्वंद्वी से टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में भी हार गई थीं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें