scorecardresearch
 

PAK कप्तान ने कहा- भारत ने राजनीतिक लाभ के लिए क्रिकेट को बनाया निशाना

पाकिस्तानी कप्तान ने खेलों को राजनीति से दूर रखने की अपील करते हुए कहा कि दोनों देशों में मौजूद क्रिकेट के दीवानों के लिए मैच खेला जाना चाहिए. उन्होंने बिना नाम लिए भारत पर निशाना साधा और कहा कि क्रिकेट को राजनीतिक लाभ के लिए निशाना बनाया जा रहा है.

सरफराज अहमद (तस्वीर- रॉयटर्स) सरफराज अहमद (तस्वीर- रॉयटर्स)

पाकिस्‍तान के कप्‍तान और विकेटकीपर बल्लेबाज सरफराज अहमद क्रिकेट विश्व कप 2019 में पाकिस्तान को बैन करने की बात पर निराशा जताई है. उन्होंने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद क्रिकेट को निशाना बनाया जा रहा है जो कि निराशाजनक है. उन्होंने कहा कि वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले हाई-प्रोफाइल मैच का पड़ोसी देश (भारत) के कई हिस्सों में बहिष्कार किया जा रहा है, ऐसा नहीं होना चाहिए. बल्कि विश्व कप में भारत और पाकिस्तान का मैच पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होना चाहिए.

पाकिस्तानी कप्तान ने खेलों को राजनीति से दूर रखने की अपील करते हुए कहा कि दोनों देशों में मौजूद क्रिकेट के दीवानों के लिए मैच खेला जाना चाहिए. उन्होंने बिना नाम लिए भारत पर निशाना साधा और कहा कि क्रिकेट को राजनीतिक लाभ के लिए निशाना बनाया जा रहा है. एक पाकिस्तानी वेबसाइट से बातचीत नें सरफराज ने कहा, 'भारत और पाकिस्तान का मैच तय कार्यक्रम के अनुसार खेला जाना चाहिए क्योंकि इस खेल को देखने वाले लाखों लोग हैं. मैं नहीं समझता कि क्रिकेट को राजनीतिक लाभ के लिए निशाना बनाया जाना चाहिए.'

उन्होंने कहा कि पुलवामा की घटना के बाद क्रिकेट को निशाना बनाया जाना निराशाजनक है. मुझे याद नहीं है कि पाकिस्तान ने कभी राजनीति को खेल के साथ मिलाया हो. सरफराज ने कहा, 'खेल को सिर्फ खेल के रूप में लिया जाना चाहिए.' बता दें कि पुलवामा हमले के बाद पूरे भारत में पाकिस्तान के खिलाफ सभी प्रकार के संबंधों को तोड़ने की मांग की जा रही है. भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह समेत कई अन्य खिलाड़ियों ने पाकिस्तान के साथ क्रिकेट को बंद करने की बात कही थी.

हालांकि, पूर्व भारतीय कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी रहे सुनिल गावस्कर ने कहा था कि भारत को पाकिस्तान के साथ मैच का बहिष्कार करने के बजाय मैच खेलना चाहिए और उसे मैदान पर हराकर जवाब देना चाहिए. गावस्कर ने गुरुवार को कहा था कि अगर भारत अगर 16 जून को पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलने का फैसला करता है तो यह उसकी हार होगी

गावस्कर के बाद क्रिकेट के 'भगवान' माने जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने भी उनकी बात को दोहराया. सचिन ने कहा कि आगामी वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलकर उसे 2 अंक देना सही नहीं होगा क्योंकि इससे वर्ल्ड कप में पाकिस्तान को ही फायदा होगा.

तेंदुलकर ने भी सुनील गावस्कर के विचारों का समर्थन करते हुए कहा, ‘भारत ने विश्व कप में हमेशा पाकिस्तान के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया है. अब फिर से उन्हें हराने का समय है. मैं निजी तौर पर उन्हें दो अंक देना पसंद नहीं करूंगा क्योंकि इससे टूर्नामेंट में उन्हें मदद मिलेगी.’ उन्होंने कहा, ‘लेकिन मेरे लिए भारत सर्वोपरि है और मेरा देश जो भी फैसला करेगा मैं तहेदिल से उसका समर्थन करूंगा.’

बता दें कि हरभजन और युजवेंद्र चहल जैसे खिलाड़ियों ने पाकिस्तान के पूर्ण बहिष्कार की मांग की है. विश्व कप ब्रिटेन में 30 मई से शुरू हो रहा है. शुक्रवार को भारतीय क्रिकेट को संचालित करने वाली प्रशासकों की समिति ने कोई फैसला नहीं करने का निर्णय किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें