scorecardresearch
 

इंग्लैंड ने साउथ अफ्रीका को T20 इतिहास का दूसरा सबसे बड़ा रन चेज कर हराया

जो रूट और जेसन रे की जबरदस्त बैटिंग के दम पर इंग्लैंड ने एक रोमांचक मुकाबले में साउथ अफ्रीका को दो विकेट से हरा दिया. साउथ अफ्रीका के दिए 230 रनों के लक्ष्य को इंग्लैंड ने दो गेंदे बाकी रहते ही पार कर लिया. इंग्लैड के लिए जो रूट ने 44 गेंदों पर 83 जबकि जेसन रॉय ने 16 गेंदों पर 43 रनों की पारियां खेलीं.

X
जो रूट ने खेली जबरदस्त पारी, इंग्लैंड ने साउथ अफ्रीका को हराया जो रूट ने खेली जबरदस्त पारी, इंग्लैंड ने साउथ अफ्रीका को हराया

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में हुए वर्ल्ड टी20 के एक रोमांचक मुकाबले में जो रूट और जेसन रे की जबरदस्त बैटिंग के दम पर इंग्लैंड ने एक रोमांचक मुकाबले में साउथ अफ्रीका को दो विकेट से हरा दिया. साउथ अफ्रीका के दिए 230 रनों के लक्ष्य को इंग्लैंड ने दो गेंदे बाकी रहते ही पार कर लिया. इंग्लैड के लिए जो रूट ने 44 गेंदों पर 83 जबकि जेसन रॉय ने 16 गेंदों पर 43 रनों की पारियां खेलीं.

इंग्लैंड ने दर्ज की रिकॉर्ड जीत
साउथ अफ्रीका ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 229 रनों का पहाड़ जैसा स्कोर खड़ा किया था. लेकिन इंग्लैंड ने इस लक्ष्य को बौना साबित करते हुए 19.4 ओवरों में आठ विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर मैच जीत लिया. यह इंटरनेशनल टी-20 मैचों में रनों का पीछा करते हुए दूसरी सबसे बड़ी जीत और वर्ल्ड टी-20 में रनों का पीछा करते हुए सबसे बड़ी जीत है. मजे की बात यह है कि ये दोनों जीत दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ही दर्ज हुई हैं.

इंग्लैंड ने किया जोरदार पलटवार
इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने बड़े लक्ष्य के आगे घुटने नहीं टेके और शुरू से ही दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों पर हमले जारी रखे. जेसन रॉय (43) और एलेक्स हेल्स (17) की जोड़ी ने पहले ओवर में ही 21 रन ठोंक डाले. दोनों ने पहले विकेट के लिए 48 रन जोड़े. काएल एबॉट ने हेल्स को 2.3 ओवर में आउट कर टीम को पहला झटका दिया. रॉय पर हालांकि इसका असर नहीं पड़ा और उन्होंने बल्ले से अपना धमाल जारी रखा. उन्हें एबॉट ने 4.3 ओवर में 71 के कुल स्कोर पर पैवेलियन भेजा. रॉय ने अपनी पारी में महज 16 गेंदें खेलीं और तीन छक्के और पांच चौके लगाए.

रूट ने खेली लाजवाब पारी
रॉय के जाने के बाद रूट ने टीम को जीत दिलाने का जिम्मा संभाला और साउथ अफ्रीका के गेंदबाजों की धुनाई चालू रखी. उन्होंने 188.63 की स्ट्राइक रेट से रन बनाए. इस बीच कप्तान इयॉन मॉर्गन (12) और जोस बटलर (21) पैवेलियन लौट चुके थे, लेकिन रूट ने एक छोर से रन बरसाने चालू रखे. वह 18.2 ओवर में 219 के कुल स्कोर पर पैवेलियन लौटे. हालांकि जाने से पहले वह टीम की जीत लगभग तय कर गए थे. उन्होंने अपनी पारी में महज 44 गेंदों का सामना किया और चार छक्के और छह चौके लगाए.

नाटकीयता से भरपूर रहा लास्ट ओवर
अंतिम ओवर में इंग्लैंड को जीत के लिए एक रन चाहिए था. ये ओवर काफी पहली गेंद पर क्रिस जॉर्डन (5) आउट हो गए. दूसरी गेंद पर डेविड विली (0) रन आउट हुए. जबकि तीसरी गेंद डॉट रही चौथी गेंद पर मोईन अली (नाबाद 12) ने विजयी रन बनाकर टीम को ऐतिहासिक जीत दिलाई. साउथ अफ्रीका के लिए एबॉट ने तीन, कैगिसो रबादा ने दो विकेट लिए. जबकि इमरान ताहिर और डुमिनी को एक-एक विकेट मिला. एक बल्लेबाज रन आउट हुआ.

डि कॉक और अमला ने किया हमला
इससे पहले टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी साउथ अफ्रीका को हाशिम अमला (58) और क्विंटन डी कॉक (52) ने धुंआधार शुरुआत दी. दोनों ने पहले विकेट के लिए 7.1 ओवर में ही 96 रन जोड़ डाले. कॉक को अली ने हेल्स के हाथों कैच करा पैवेलियन भेजा. कॉक ने अपनी पारी में 24 गेंदों का सामना करते हुए तीन छक्के और सात चौके लगाए. खतरनाक अमला को भी अली ने पैवेलियन भेजा. उन्होंने 31 गेंद की पारी में तीन छक्के और सात चौके लगाए. अंतिम ओवरों में डुमिनी ने 28 गेंदों में तीन चौके और तीन छक्के की सहायता से नाबाद 54 रनों और डेविड मिलर ने 12 गेंदों में दो छक्के और इतने ही चौकों की मदद से नाबाद 28 रनों की पारी खेल टीम को 229 के विशाल स्कोर तक पहुंचाया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें