scorecardresearch
 

IND vs SA, Cape Town Test: 'मेरा फोकस गेम पर, बाहरी चीजों पर नहीं...' शानदार प्रदर्शन के बाद बोले बुमराह

केपटाउन टेस्ट के दूसरे दिन तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का जलवा देखने को मिला. बुमराह ने पांच विकेट चटकाकर मेजबान टीम को पहली पारी को नेस्तनाबूत कर दिया.

Jasprit Bumrah (getty) Jasprit Bumrah (getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जसप्रीत बुमराह का शानदार प्रदर्शन 
  • 42 रन देकर चटकाए पांच अहम विकेट

IND vs SA, Cape Town Test: केपटाउन टेस्ट के दूसरे दिन तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का जलवा देखने को मिला. बुमराह ने पांच विकेट चटकाकर मेजबान टीम को पहली पारी को नेस्तनाबूत कर दिया. नतीजतन साउथ अफ्रीका पहली पारी में महज 210 रनों पर ढेर हो गई.

बुमराह ने वांडरर्स टेस्ट मैच में भारत की शर्मनाक हार में काफी निराशाजनक प्रदर्शन किया था, जिसके बाद वह भी आलोचनाओं के घेरे में आ गए. अब शानदार प्रदर्शन के बाद जसप्रीत बुमराह समझते हैं कि उनकी गेंदबाजी के बारे में अलग-अलग राय होगी. लेकिन उन बाहरी बातों पर आपा खोने का कोई मतलब नहीं है. साथ ही, जिस पर उनका कोई नियंत्रण नहीं है.

42 रन देकर पांच विकेट लेने वाले बुमराह ने मैच समाप्ति के बाद कहा, 'सामान्य से बढ़कर कुछ भी नहीं था और मैं अतिरिक्त ध्यान नहीं दे रहा था. मैं वास्तव में बहुत गुस्से में नहीं था और मैं वर्तमान पर ध्यान केंद्रित कर रहा था और मुझे जो करना था वह किया. कुछ दिन मुझे विकेट मिलेंगे, कुछ दिन किसी और को विकेट मिलेंगे.'

बुमराह ने कहा, 'आपकी प्रशंसा एवं आलोचना करने वाले लोग होंगे. यह एक ऐसी चीज है जिसे एक व्यक्ति को तय करना होता है. मैं बाहरी चीजों पर ध्यान नहीं देता क्योंकि यह वास्तव में मदद नहीं करता है. जब मैं गेंदबाजी करता हूं तो यह मेरे नियंत्रण में होता है. मैं गेंदबाजी के प्रति अपने दृष्टिकोण को लाने की कोशिश करता हूं. जो हो रहा है उससे बचने की कोशिश करता हूं. यह हो सकता है कि कुछ लोग मेरी गेंदबाजी को पसंद करें और कुछ लोग ना करें.'

बुमराह ने  किसी भी 'मैजिक नंबर' का हवाला नहीं दिया, जो साउथ अफ्रीका को चौथी पारी में चुनौती दे सकता है. लेकिन उन्होंने कहा कि पहले दो टेस्ट की तुलना में न्यूलैंड्स का विकेट थोड़ा फ्लैट है और बल्लेबाजों को उनके शॉट्स के लिए वेल्यू मिलता है. 

बुमराह ने कहा 'यह एक नई गेंद का विकेट है, यह नई गेंद के साथ स्विंग करता है और जैसे-जैसे गेंद की सीम खत्म होती जाती है, बल्लेबाजी अपेक्षाकृत आसान हो जाती है. हमने उस ट्रेंड को देखा है, दूसरी पारी हम एक अच्छी साझेदारी कर इसे भुनाने की कोशिश करेंगे.'



 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×