scorecardresearch
 

कोहली को IPL में सबसे ज्यादा पैसा, धोनी-धवन को छोड़ा पीछे

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के कप्तान विराट कोहली सबसे ज्यादा कमाई करने वाले खिलाड़ी हैं. उन्हें फ्रेंचाइजी से 15 करोड़ रुपये मिलते हैं. उनके बाद पुणे के महेन्द्र सिंह धोनी और सनराइजर्स हैदराबाद के शिखर धवन आते हैं.

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के कप्तान विराट कोहली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के कप्तान विराट कोहली

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने शुक्रवार को इंडियन प्रीमियल लीग (आईपीएल) की फ्रेंचाइजी द्वारा बरकरार रखे जाने वाले खिलाड़ियों को मिलने वाले वेतन का खुलासा किया है.

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के कप्तान विराट कोहली सबसे ज्यादा कमाई करने वाले खिलाड़ी हैं. उन्हें फ्रेंचाइजी से 15 करोड़ रुपये मिलते हैं. उनके बाद पुणे के महेन्द्र सिंह धोनी और सनराइजर्स हैदराबाद के शिखर धवन आते हैं. दोनों को 12.5 करोड़ रुपये मिलते हैं.

धोनी और सुरेश रैना को नई टीम पुणे और राजकोट ने चेन्नई सुपर किंग्स से ड्रॉफ्ट प्रणाली के तहत खरीदा है. दोनों को 12.5 करोड़ रुपये की कीमत पर खरीदा गया था लेकिन बीसीसीआई ने यह साफ कर दिया कि वह 10 खिलाड़ी जो ड्रॉफ्ट प्रणाली के तहत खरीदे गए हैं उन्हें वही वेतन दिया जाएगा जो उन्हें पहले के फ्रेंचाइजी से मिल रहा था.

इसी के अनुसार रैना को 9.5 करोड़ रुपये नई टीम से मिलेंगे, हालांकि 12.5 करोड़ राजकोट के खाते में से काट लिए जाएंगे. मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा और कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर बाकी ऐसे दो खिलाड़ी हैं जिन्हें 10 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम दी जाएगी.

मुंबई इंडियंस के वेस्टइंडीज के हरफनमौला खिलाड़ी कीरन पोलार्ड विदेशी खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा रकम पाने वाले खिलाड़ी हैं. उन्हें 9.7 करोड़ रुपये मिलेंगे. उनकी आधिकारिक तय कीमत 9.5 करोड़ रुपये है.

कई और ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें उनकी आधिकारिक तय कीमत से कम कीमत मिल रही है. धोनी, धवन और कोहली के अलावा रोहित शर्मा और गौतम गंभीर दो ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें 10 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम मिल रही है. किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेलने वाले मनन वोहरा को महज 3.5 लाख रुपये मिलेंगे जो आधिकारिक कीमत चार करोड़ से 10 फीसदी कम है.

विदेशी खिलाड़ियों में डेविड मिलर, स्टीव स्मिथ, ब्रेंडन मैक्लम और जेम्स फॉल्कनर उन खिलाड़ियों में शामिल हैं जिन्हें तय कीमत से कम कीमत मिलेगी. हर फ्रेंचाइजी अपनी टीम पर कम से कम 40 करोड़ और ज्यादा से ज्यादा 66 करोड़ रुपये खर्च कर सकती है. लेकिन जब फ्रेंचाइजी अपने खिलाड़ी को बरकरार रखती है तो उसे खिलाड़ियों के लिए तय की गई कुल कीमत में से ही कीमत चुकानी पड़ती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें