scorecardresearch
 

‘रियाज जैसे बाएं हाथ के गेंदबाज की कमी खलेगी टीम इंडिया को’

टीम इंडिया के पूर्व गेंदबाजी कोच जो डावेस ने संदेह जताया है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गुरुवार को खेले जाने वाले आईसीसी वर्ल्ड कप-2015 के सेमीफाइनल मैच में मौजूदा चैम्पियन भारत को पाकिस्तान के वहाब रियाज जैसे बेहतरीन गेंदबाज की कमी खलेगी.

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज वहाब रियाज पाकिस्तान के तेज गेंदबाज वहाब रियाज

टीम इंडिया के पूर्व गेंदबाजी कोच जो डावेस ने संदेह जताया है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गुरुवार को खेले जाने वाले आईसीसी वर्ल्ड कप 2015 के सेमीफाइनल मैच में मौजूदा चैम्पियन भारत को पाकिस्तान के वहाब रियाज जैसे बेहतरीन गेंदबाज की कमी खलेगी. साथ ही डावेस ने यह भी कहा कि पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खराब प्रदर्शन भी टीम इंडिया पर मानसिक दबाव बनाने का काम करेगा.

डावेस फरवरी 2012 से अक्टूबर 2014 तक टीम इंडिया के गेंदबाजी कोच रह चुके हैं. न्यूजपेपर 'सिडनी मॉर्निग हेराल्ड' के अनुसार पाकिस्तान वर्ल्ड कप से बाहर हो चुका है लेकिन रियाज का क्वार्टर फाइनल में किया गया प्रदर्शन अभी भी टूर्नामेंट में चर्चा का विषय बना हुआ है. रियाज ने शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर और कप्तान माइकल क्लार्क को चलता किया था और शेन वाटसन को भी खूब परेशान किया. ऑस्ट्रेलिया हालांकि यह मैच छह विकेट से जीतने में कामयाब रहा और सेमीफाइनल में पहुंचा.

डावेस के अनुसार भारतीय टीम में मोहम्मद समी, उमेश यादव और मोहित शर्मा जैसे गेंदबाज हैं जिनका इस वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन रहा है, लेकिन महेंद्र सिंह धोनी की टीम को रियाज जैसे बाएं हाथ के गेंदबाज की कमी खलेगी.

डावेस के अनुसार बाएं हाथ के तेज गेंदबाज इस वर्ल्ड कप में बहुत सफल रहे हैं, लेकिन भारत के पास ऐसा कोई गेंदबाज नहीं है जो रियाज जैसा प्रदर्शन कर सके.

डावेस ने कहा, ‘मुझे लगता है उनके पास वो सभी उपाय हैं जिससे वो बड़ी से बड़ी टीम को पछाड़ सकते हैं, यह मात्र इतनी सी बात है कि वो उस दिन सही क्षेत्र में बॉल डालने में एक समान रहते हैं या नहीं. पूरी गर्मी के दौरान उन्होंने ऐसा नहीं किया है.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें