scorecardresearch
 

मुस्तफा कमाल का आरोप, ICC के फैसलों में एन श्रीनिवासन की मनमानी चल रही है

विश्वकप विजेता को ट्रॉफी प्रदान करने का मौका नहीं दिए जाने से नाराज मुस्तफा कमाल ने आईसीसी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा तो दे दिया, लेकिन आईसीसी चेयरमैन एन श्रीनिवासन पर जमकर भड़ास निकाली है.

आईसीसी अध्यक्ष कमाल मुस्तफा आईसीसी अध्यक्ष कमाल मुस्तफा

विश्वकप विजेता को ट्रॉफी प्रदान करने का मौका नहीं दिए जाने से नाराज मुस्तफा कमाल ने आईसीसी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा तो दे दिया , लेकिन आईसीसी चेयरमैन एन श्रीनिवासन पर जमकर भड़ास निकाली है. उन्होंने श्रीनिवासन को घिनौना करार दिया और आरोप लगाया कि वे फैसले लेने में मनमानी कर रहे हैं. खराब हुई अंपायरिंग, इसलिए हारा बांग्लादेश

कमाल ने कहा, 'मैं अपना इस्तीफा आईसीसी को भेज दिया. मुझे आईसीसी संविधान के दायरे में काम करने नहीं दिया गया. मैं उनके साथ आईसीसी संविधान से अलग जाकर काम नहीं कर सकता.'

आईसीसी अब भारतीय क्रिकेट परिषद
कमाल ने श्रीनिवासन पर निशाना साधते हुए कहा कि आईसीसी को अब भारतीय क्रिकेट परिषद कहा जा सकता है. उन्होंने कहा, 'मुझे उनका नाम लेते हुए भी खराब लग रहा है. यदि यह व्यक्ति क्रिकेट का प्रभारी है तो क्रिकेट कैसे चलेगा.' उन्होंने कहा, 'इस तरह के लोगों को क्रिकेट से दूर रहना चाहिए. ये लोग क्रिकेट को गंदा कर रहे हैं. क्रिकेट खत्म हो जाएगा. मैं आईसीसी से अनुरोध करता हूं कि इन बातों पर गौर करे और लोगों को सोचना चाहिए कि मैने इस्तीफा क्यों दिया.'

मनमानी कर रहे हैं श्रीनिवासनः मुस्तफा कमाल
एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में उन्होंने एन श्रीनिवासन पर मनमानी करने का आरोप लगाया. मुस्तफा कमाल ने कहा कि श्रीनिवासन के नेतृत्व में आईसीसी की छवि को भारी नुकसान हुआ है. श्रीनिवासन क्रिकेट काउंसिल के फैसलों में मनमानी कर रहे हैं. वर्ल्ड कप में इस बार 14 टीमों ने हिस्सा लिया. इस टूर्नामेंट के अगले संस्करण में सिर्फ 10 टीमें होंगी. ये फैसले कौन ले रहा है?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें