scorecardresearch
 

कोहली के फैसले पर बोले BCCI के सचिव जय शाह- छह महीने से चल रही थी चर्चा

विराट कोहली ने अपने फैसले में कहा, "मैंने टी-20 कप्तान के तौर पर अपने दौर में टीम को सब कुछ दिया है और आगे बढ़ते हुए एक बल्लेबाज के तौर पर टी-20 टीम के लिए मैं ऐसा करना जारी रखूंगा."

X
विराट कोहली ने छोड़ी टी-20 वर्ल्ड कप की कप्तानी (फाइल-पीटीआई) विराट कोहली ने छोड़ी टी-20 वर्ल्ड कप की कप्तानी (फाइल-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 'कोहली बतौर खिलाड़ी-सदस्य टीम इंडिया से जुड़े रहेंगे'
  • टीम इंडिया के लिए हमारे पास स्पष्ट रोड मैपः जय शाह
  • कोहली टी-20 वर्ल्ड कप के बाद टीम की कप्तानी छोड़ेंगे

विराट कोहली ने गुरुवार को अप्रत्याशित फैसला लेते हुए वर्ल्ड कप के बाद टी-20 फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने का ऐलान कर दिया. हालांकि वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के 2 अन्य फॉर्मेट (टेस्ट और वनडे) की कप्तानी करते रहेंगे. कोहली के ऐलान के बाद बीसीसीआई की ओर से कहा गया कि पिछले 6 महीने से टीम में नेतृत्व को लेकर डिस्कशन चल रही थी.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की ओर से गुरुवार को जारी बयान में कहा गया कि विराट कोहली ने आगामी ICC T20 वर्ल्ड कप के बाद T20I टीम के कप्तान के रूप में पद छोड़ने का फैसला किया है. कोहली ICC वर्ल्ड कप के आयोजन के बाद भी T20 फॉर्मेट में टीम चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे. वर्ल्ड कप की मेजबानी बीसीसीआई द्वारा U.A.E और ओमान में की जाएगी.

बोर्ड के सचिव जय शाह ने कहा, "हमारे पास टीम इंडिया के लिए एक स्पष्ट रोडमैप है. वर्कलोड को ध्यान में रखते हुए हमारे पास योजना है. विराट कोहली ने आगामी वर्ल्ड कप के बाद T20I की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है." उन्होंने कहा, "मैं पिछले छह महीनों से विराट कोहली और टीम लीडरशिप के साथ चर्चा में शामिल रहा और अब यह फैसला लिया गया है. कोहली एक खिलाड़ी के रूप में और टीम के वरिष्ठ सदस्य के रूप में भारतीय क्रिकेट के भविष्य को आकार देने में अपना योगदान देना जारी रखेंगे."

इसे भी क्लिक करें --- T20 WC में ओपनिंग नहीं करेंगे कोहली, चीफ सेलेक्टर ने किया सलामी जोड़ी का खुलासा

वर्ल्ड कप के बाद कोहली छोड़ेंगे कप्तानी

इससे पहले कोहली ने सोशल मीडिया के जरिए टी-20 फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने का ऐलान करते हुए सभी को चौंका दिया. उन्होंने कहा, "मैं न केवल भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए भाग्यशाली रहा हूं बल्कि अपनी पूरी क्षमता के साथ भारतीय क्रिकेट टीम का नेतृत्व भी कर रहा हूं. मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने भारतीय टीम के कप्तान के रूप में मेरी यात्रा में मेरा समर्थन किया. मैं खिलाड़ियों, सहयोगी स्टाफ, चयन समिति, मेरे कोच और हर भारतीय जो हमारी जीत के लिए रहे, उनके बिना नहीं कर सकता था."

उन्होंने कहा, "वर्कलोड को समझना एक बहुत ही महत्वपूर्ण बात है और पिछले 8-9 वर्षों में सभी 3 प्रारूपों में खेलने और पिछले 5-6 वर्षों से नियमित रूप से कप्तानी करने पर अत्यधिक कार्यभार को देखते हुए, मुझे लगता है कि मुझे टेस्ट और वनडे क्रिकेट में भारतीय टीम की अगुवाई करने के लिए पूरी तरह से तैयार होने के लिए खुद को स्थान देने की जरुरत है."

कोहली ने कहा, "मैंने टी-20 कप्तान के तौर पर अपने दौर में टीम को सब कुछ दिया है और आगे बढ़ते हुए एक बल्लेबाज के तौर पर टी-20 टीम के लिए मैं ऐसा करना जारी रखूंगा."

"बेशक, इस निर्णय पर पहुंचने में बहुत समय लगा. मेरे करीबी लोगों, रवि भाई और रोहित, जो नेतृत्व समूह का एक अनिवार्य हिस्सा रहे हैं, के साथ बहुत चिंतन और चर्चा के बाद, मैंने अक्टूबर में दुबई में इस टी-20 वर्ल्ड कप के बाद टी-20 कप्तान के रूप में पद छोड़ने का फैसला किया है."

कोहली ने कहा, "मैंने चयनकर्ताओं के साथ सचिव जय शाह और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से भी बात की है. मैं अपनी पूरी क्षमता से भारतीय क्रिकेट और भारतीय टीम की सेवा करना जारी रखूंगा."

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें