scorecardresearch
 

इस मांसाहारी प्लांट को न तोड़ें, होंगे ये बड़े नुकसान... सरकार ने खुद की अपील

इन दिनों कंबोडिया में लिंग के आकार का दिखने वाला पौधा काफी मात्रा में पनपा हुआ है. इसे पेनिस पिचर प्लांट (Penis Pitcher Plant) कहते हैं. इसे लोग तोड़-तोड़कर घर ले जा रहे थे. तब सरकार ने लोगों से कहा कि इसे तोड़ना बंद करें, नहीं तो बड़ा नुकसान होगा. आइए जानते हैं कि ये किस तरह का पौधा है?

X
Penis Pitcher Plant: कंबोडिया में तीन लड़कियों की पेनिस प्लांट तोड़ते हुए फोटो हो रही वायरल. (फोटोः कंबोडियाई पर्यावरण मंत्रालय/फेसबुक) Penis Pitcher Plant: कंबोडिया में तीन लड़कियों की पेनिस प्लांट तोड़ते हुए फोटो हो रही वायरल. (फोटोः कंबोडियाई पर्यावरण मंत्रालय/फेसबुक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पर्यावरण मंत्रालय ने फेसबुक पोस्ट किया
  • बेहद दुर्लभ है ये पौधा, बहुत कम दिखता है

कंबोडिया (Cambodia) की सरकार ने दुर्लभ मांसाहारी पेनिस पिचर प्लांट (Rare Carnivorous Penis Pitcher Plant) को तोड़ने से लोगों को मना किया है. एक खास एंगल से देखने पर ये पौधे इंसानी लिंग (Penis) की तरह दिखते हैं. कंबोडिया की पर्यावरण मंत्रालय ने अपने फेसबुक पर एक तस्वीर डाली है, जिसमें तीन कंबोडियन महिलाएं पेनिस प्लांट तोड़कर उन्हें अपने पास रख रही हैं. 

खेमेर टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार कंबोडियाई पर्यावरण मंत्रालय के अधिकारियों ने सोशल मीडिया के जरिए रिक्वेस्ट की है कि इस पौधे को अकेला छोड़ दें. अपने फेसबुक पोस्ट पर कंबोडियाई मंत्रालय ने लिखा है कि ये लोग जो कर रहे हैं वो गलत है. पर्यावरण के लिए भविष्य में ऐसा न करें. प्राकृतिक संसाधनों के प्रति प्यार दिखाने के लिए आपका धन्यवाद. लेकिन इसे कहीं लगाइगा नहीं क्योंकि अब ये कचरा हो जाएगा. 

तोड़ने के बाद पेनिस पिचर प्लांट को दिखाती कंबोडियाई लड़की. (फोटोः फेसबुक/कंबोडियाई पर्यावरण मंत्रालय)
तोड़ने के बाद पेनिस पिचर प्लांट को दिखाती कंबोडियाई लड़की. (फोटोः फेसबुक/कंबोडियाई पर्यावरण मंत्रालय)

फोटोग्राफर ने खोजा था ये पौधा

कुछ मीडिया संस्थानों ने खबर लगाई कि ये नेपेंथेस होल्डेनी (Nepenthes holdenii) है. लेकिन असल में ये नेपेंथेस बोकेरेनसिस (Nepenthes bokorensis) प्रजाति के नजदीकी दुर्लभ पोधे हैं. इन्हें सबसे पहले फ्रीलांस वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर जेरेमी होल्डेनी और बॉटैनिकल इल्सुट्रेटर फ्रास्वां मे ने खोजा था. दोनों ही प्रजातियां दिखने में एकदम एक जैसी हैं. दोनों ही पहाड़ी इलाकों में पाई जाती हैं. इसकी वजह से लोग और कन्फ्यूज होते हैं. 

दो में से एक ही पौधा है दुर्लभ

नेपेंथेस होल्डेनी (Nepenthes holdenii) ज्यादा दुर्लभ होती है. जेरेमी होल्डेन कहते हैं कि यह पौधा दक्षिण-पश्चिम कंबोडिया के कार्डामॉम माउंटेंस पर कुछ चुनिंदा जगहों पर ही उगता है. नेपेंथेस बोकेरेनसिस (Nepenthes bokorensis) नोम बोकोर नाम के इलाके में अक्सर दिख जाता है. उस पौधे ने तो काफी ज्यादा विकास भी किया है. लेकिन नेपेंथेस होल्डेनी (Nepenthes holdenii) बहुत दुर्लभ है. 

पिछले साल भी जुलाई के महीने में कंबोडिया की सरकार ने ऐसी ही अपील की थी. (फोटोः फेसबुक/कंबोडियाई पर्यावरण मंत्रालय)
पिछले साल भी जुलाई के महीने में कंबोडिया की सरकार ने ऐसी ही अपील की थी. (फोटोः फेसबुक/कंबोडियाई पर्यावरण मंत्रालय)

कैंडी जैसी मीठी गंध आती है

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि कंबोडिया के पर्यावरण मंत्रालय ने लोगों से ऐसी अपील की है. इससे पहले पिछले साल जुलाई में भी अपील की गई थी. क्योंकि नेपेंथेस होल्डेनी (Nepenthes holdenii) बेहद दुर्लभ पौधा है. ये विलुप्त होने की कगार पर है. लोग इस फोटोजेनिक पौधे को जानबूझकर तोड़ देते हैं. जिससे इसकी प्रजाति को खतरा हो गया है. ये बेहद कम पोषक मिट्टी में भी पनपने वाला पौधा है. ये कीड़ों को खाता है. इनमें से कैंडी जैसी बेहद मीठी सुगंध निकलती है. 

कम हो रहे हैं ये वाले पौधे

पेनिस पिचर प्लांट (Penis Pitcher Plant) के अंदर जैसे ही कोई कीड़ा घुसता है, ऊपर से इसका पत्तियां बंद हो जाती हैं. इसके बाद इस पौधे से कुछ खास तरह के पाचक रसायन निकलते हैं, जो कीड़ों को पिघला देते हैं. पिघलने वाली कीड़े के शरीर से निकलने वाले पोषक तत्वों की वजह से ये पौधा विकसित होता है. कंबोडिया में लगाता बढ़ रही खेती की वजह से इन दुर्लभ मांसाहारी पौधों की पैदावार खत्म होती जा रही है. इसलिए कंबोडिया की सरकार इन्हें तोड़ने से लोगों को मना करती है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें