scorecardresearch
 

नदी से बाहर आई 8000 साल पुरानी इंसानी खोपड़ी, पुरातन काल के राज़ आए सामने

पिछले साल अमेरिका में मिनेसोटा नदी (Minnesota River) के पास इंसानी खोपड़ी का एक हिस्सा मिला था. खोपड़ी की फॉरेंसिक जांच की गई, तो पता लगा कि ये हड्डी पुरातन काल की है. इससे वैज्ञानिकों को उस दौर के बारे में कई जानकारिया मिलीं.

X
पुरातन काल के मानव की खोपड़ी मिली (सांकेतिक तस्वीर: Unsplash) पुरातन काल के मानव की खोपड़ी मिली (सांकेतिक तस्वीर: Unsplash)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • खोपड़ी पर घाव के निशान
  • चोट लगने से नहीं हुई थी मौत

अमेरिका (America) में 2021 में कश्ती चलाने वाले दो लोगों को मिनेसोटा नदी (Minnesota River) के पास इंसानी खोपड़ी का एक हिस्सा मिला. अपराध की आशंका में, इस अज्ञात शख्स का पता लगाने के लिए खोपड़ी की फॉरेंसिक जांच की गई. लेकिन फॉरेंसिक जांच में जो सामने आया उसने वैज्ञानिकों को आश्चर्य में डाल दिया. 

असल में ये क्राइम से जुड़ा सुराग नहीं, बल्कि पुरातन काल के अमेरिकी जीवन का एक सुराग था. इंसान की खोपड़ी का यह हिस्सा करीब 8,000 साल पुराना था. जांच से पता चला कि यह एक ऐसे व्यक्ति की खोपड़ी थी जो 5,500 से 6,000 ई.पू के बीच रहा करता था. 

नदी के अंदर से निकली खोपड़ी

कश्ती चलाने वालों को यह खोपड़ी सितंबर 2021 में दक्षिण-पश्चिमी मिनेसोटा के सेक्रेड हार्ट (Sacred Heart ) शहर के पास मिली थी. जिस जगह यह हड्डी मिली, वह जगह पानी के नीचे रही होगी, लेकिन गंभीर सूखे की वजह से नदी में पानी का स्तर कम हो गया और ये खोपड़ी बाहर आ गई. 

Human skull found
कश्ती चला रहे लोगों को नदी के पास से मिली थी हड्डी (सांकेतिक तस्वीर: Unsplash)

खोपड़ी से डाइट का पता चला

फॉरेंसिक जांच में खोपड़ी में पाए जाने वाले कार्बन का रासायनिक विश्लेषण किया गया कि वह कौनसा कार्बन है और कितनी मात्रा में है. कार्बन-14 नामक कार्बन के आइसोटोप के क्षय या वैरिएशन से खोपड़ी की उम्र का पता चलता है. बाकी आइसोटोप के संतुलन से व्यक्ति की डाइट का पता चलता है. इस विश्लेषण से पता चला कि यह व्यक्ति मछली, मक्का, बाजरा या ज्वार खाया करता था. 

मिनेसोटा स्टेट यूनिवर्सिटी में मानव विज्ञान की प्रोफेसर और विभाग की अध्यक्ष कैथलीन ब्लू (Kathleen Blue) का कहना है कि जिस दौर में यह व्यक्ति जीवित था, उस समय के बारे में बहुत कम जानकारी है. इस व्यक्ति के आहार में उस इलाके में उगने वाले पेड़-पौधों से मिलने वाला आहार, हिरण, मछलियों, कछुए और मसल्स शामिल रहा होगा. 

खोपड़ी पर घाव के निशान 

कैथलीन का कहना है कि खोपड़ी के टुकड़े पर चोट के निशान पाए गए हैं, लेकिन इस चोट से व्यक्ति की मौत नहीं हुई थी. क्योंकि हड्डी पर फिर से बढ़ने और ठीक होने के संकेत दिखाई देते हैं. जिससे यह पता चलता है कि चोट से ये व्यक्ति बच गया था.

 

इस अवधि के कुछ मानव अवशेष पहले भी मिले थे. 1930 के दशक में, सड़क निर्माण को दैरान एक मूल अमेरिकी किशोर लड़की की खोपड़ी और कंकाल मिला था, जिसे अब मिनेसोटा वीमेन (Minnesota Woman) के रूप में जाना जाता है. माना जाता है कि यह कंकाल 8,000 से 10,000 साल पुराना है. लड़की के साथ एक सींग का खंजर पाया गया था. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें