scorecardresearch
 

Vastu: घर की किस दिशा में होनी चाहिए तिजोरी? कहीं आप तो नहीं कर रहे ये बड़ी गलती

किसी चीज को घर की गलत दिशा में रखने से वास्तु दोष बनता है, जिससे इंसान को बड़ी परेशानियां हो सकती है.

घर की किस दिशा में होनी चाहिए तिजारी? कहीं आप तो नहीं कर रहे ये बड़ी गलती घर की किस दिशा में होनी चाहिए तिजारी? कहीं आप तो नहीं कर रहे ये बड़ी गलती
स्टोरी हाइलाइट्स
  • घर की दिशा का सही उपयोग कैसे करें?
  • घर की गलत दिशा में चीजों को रखने से वास्तु दोष

घर में इस्तेमाल होने वाली चीजों का वास्तु के हिसाब से रख-रखाव बहुत जरूरी है. ज्योतिषी कहते हैं कि घर की गलत दिशा में चीजों को रखने से वास्तु दोष बनता है, जिससे घर में बड़ी परेशानियां हो सकती है. आइए आज आपको बताते हैं कि घर की दिशा का सही उपयोग कैसे कर सकते हैं.

उत्तर दिशा- वास्तु के मुताबिक, घर की उत्तर दिशा को भगवान कुबेर का स्थान माना जाता है. इसलिए इस दिशा में तिजोरी या अलमारी का रखना शुभ माना जाता है. इसके अलावा कोई भी दूसरी चीज इस स्थान पर न रखें.

पूर्वी दिशा- वास्तु के मुताबिक, पूर्व दिशा के स्वामी सूर्य देव और इंद्र देव होते हैं. इसलिए इस जगह को हमेशा खाली रखना चाहिए. नया घर बनवाने वाले ध्यान रखें कि घर के इस स्थान पर सूर्य की किरणों का आना बहुत जरूरी होता है.

दक्षिण दिशा- वास्तु के मुताबिक, घर की दक्षिण दिशा में हमेशा भारी सामान होना चाहिए. ये जगह खाली न हो और यहां टॉयलेट या बाथरूम भी न बनाएं. इससे घर की सुख-शांति भंग होगी.

पश्चिम दिशा- बाथरूम या टॉयलेट बनाने के लिए ये दिशा सबसे सही मानी जाती है. आप इस दिशा में किचन भी बना सकते हैं, लेकिन ध्यान रखें कि किचन और बाथरूम सटाकर न बनाएं.

ईशान कोण- ईशान कोण को भगवान शिव का स्थल माना जाता है. इसलिए इस दिशा में पूजा घर बनवाएं. इस दिशा का स्वामी गुरु को माना जाता है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें