scorecardresearch
 

वास्तु: घर में नल से पानी का टपकना अशुभ संकेत, धन-पैसे पर होता है ये असर!

वास्तु (Vastu) के अनुसार घर के नल या टंकी से पानी टपकता रहता है तो उसे तुरंत ठीक करवा लेना चाहिए अन्यथा पानी की तरह ही घर का धन एवं पैसा भी बहता जाता है. इसके साथ ही घर में धन नहीं टिकता और आर्थिक हानि का अंदेशा होता है.

Vastu Shastra Tips: वास्तु टिप्स Vastu Shastra Tips: वास्तु टिप्स

घर के किचन, बाथरूम या अन्य किसी जगह लगे नल से पानी टपकता है तो वास्तु के अनुसार अशुभ माना जाता है. घर में सिंक या बाथरूम के नल और टंकी को बंद करने के बाद भी पानी का बूंद-बूंद होकर गिरने से नकारात्मक ऊर्जा (Negative Energy) का वास होता है. ऐसे में पानी का व्यर्थ होना या बहना अच्छा नहीं माना जाता है. वास्तु के मुताबिक जिस घर में नल टपकता है वहां फिजूल खर्च अधिक होते हैं.

वास्तु (Vastu) के अनुसार घर के नल या टंकी से पानी टपकता रहता है तो उसे तुरंत ठीक करवा लेना चाहिए अन्यथा पानी की तरह ही घर का धन एवं पैसा भी बहता जाता है.

वास्तु के मुताबिक पानी का बहना संकेत देता है कि कहीं न कहीं धन खर्च अधिक हो रहा है. इसके साथ ही घर में धन नहीं टिकता और आर्थिक हानि का अंदेशा होता है.

देखें: आजतक LIVE TV

वास्तु के अनुसार घर के किचन का नल अगर लगातार टपकता है तो ज्यादा अशुभ माना जाता है. दरअसल, किचन में अग्रि का वास होता है. जहां आग और पानी एक साथ हो जाएं तो परेशानी और फिजूल खर्च बढ़ने लगता है.

वास्तु शास्त्र (Vastu Shastra) के अनुसार उत्तर पूर्व दिशा पानी का टैंक रखने के लिए शुभ मानी जाती है. इस दिशा में पानी का स्थान होने से धन और आर्थिक समृद्धि आती है.

जबकि दक्षिण-पश्चिम दिशा यानी नैऋत्य कोण में पानी की टंकी का होना अशुभ माना गया है. इस दिशा में पानी का स्थान होने से घर में कर्जा संबंधित परेशानी आ सकती है.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें