scorecardresearch
 

Karwa Chauth 2021: गर्भवती महिलाएं इस तरह रखें करवा चौथ का व्रत

Karwa Chauth 2021 Vrat: करवा चौथ का व्रत हिंदू धर्म में बहुत महत्व रखता है. ये व्रत अपने नियमों को लेकर कठिन भी है. एक बार यदि ये व्रत शुरू करते हैं, तो इसे बीच में छोड़ना अशुभ माना जाता है. इसलिए चाहे कुछ भी हो इस व्रत को करना जरूरी है. ऐसे में उन महिलाओं के सामने बड़ी परेशानी खड़ी हो जाती है, जो गर्भवती हैं. क्योंकि ऐसे समय में निर्जल और निराहार व्रत को रख पाना उनके लिए बेहद कठिन होता है.

Photo Credit: Getty Images Photo Credit: Getty Images
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अच्छे से लें नींद और करें आराम
  • अपने स्त्री रोग विशेषज्ञ से लें परामर्श

Fasting Tips For Pregnant Women Karwa Chauth 2021: करवा चौथ का व्रत सुहागिन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए रखती हैं. इस साल ये व्रत 24 अक्टूबर 2021 दिन रविवार को रखा जाएगा. ये व्रत सूर्योदय से पहले शुरू होता है. पूरे दिन निर्जल और निराहार रहने के बाद शाम को चंद्रमा देखने के बाद इस व्रत का पारण किया जाता है. जिनका स्वास्थ्य सही है, वे महिलाएं तो इस व्रत को आसानी से कर लेती हैं, लेकिन सबसे अधिक परेशानी बीमार और उन महिलाओं के सामने आती है, जो इस समय में गर्भवती होती हैं. इस समय में व्रत रखने को लेकर चिंता भी रहती है. गर्भ में पल रहे शिशु को इस कठिन के व्रत के पालन से कोई नुकसान न पहुंचे. तो ऐसे में कुछ आसान टिप्स आपको बताते हैं, जो इस व्रत के करने को लेकर उठ रहे मन में कई सवालों के जवाब देते हैं. 


गर्भवती महिलाओं के लिए महत्वपूर्ण टिप्स 
1- अपने स्त्री रोग विशेषज्ञ से मिलें: करवा चौथ का व्रत शुरू करने से पहले, सुनिश्चित करें कि आप अपने स्त्री रोग विशेषज्ञ से सलाह लें. यह विशेष रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि गर्भावस्था के दौरान आपको उच्च रक्तचाप और गर्भकालीन मधुमेह होने का खतरा अधिक होता है. यदि आप एक या तीन महीने की गर्भवती हैं, तो उपवास करने से बचना सबसे अच्छा है. 

2- उपवास शुरू होने से पहले अच्छी तरह से खाएं: करवा चौथ का व्रत सूर्योदय से पहले शुरू होता है. ऐसे में सरगी का सेवन किया जाता है. इसलिए यदि आप गर्भवती हैं, तो अच्छी तरह खाएं. आप व्रत की शुरुआत करने से पहले एक गिलास दूध पी लें, तो ये आपके लिए बेहद अच्छा रहेगा. 

3- तनावमुक्त और शांत रहें: जब आप गर्भवती होती हैं, तो आपका शरीर सामान्य से अधिक काम करता है और उपवास करते समय जब आपके शरीर को पर्याप्त रूप से भोजन नहीं मिल पाता है, तो आपको अपनी ऊर्जा बचानी चाहिए. ज़ोरदार गतिविधि में शामिल न हों या अति सक्रिय न हों. 

4- मचली, सिरदर्द से घबराएं नहीं:  व्रत के दौरान आपको मचली, सिरदर्द या चक्कर महसूस हो सकता है या नहीं भी हो सकता है, लेकिन जान लें यह पूरी तरह से सामान्य है. हालांकि, अगर आपको लगता है कि यह असहनीय है, तो तुरंत अपना उपवास तोड़ने में संकोच न करें.

5- पर्याप्त नींद लें और आराम करें: यदि आप करवा चौथ का व्रत रख रही हैं, तो ध्यान रखें कि इस अवधि के दौरान आपको पर्याप्त नींद लेने की आवश्यकता है. ज्यादा घूमने फिरने से बचें और आराम करें. 

6- अधिक कसे हुए कपड़े न पहनें: करवा चौथ पर महिलाएं 16 श्रृंगार करती हैं, काफी सारे गहने पहन लेती हैं और साड़ी भी उनकी भारी भरकम होती हैं. लेकिन गर्भवती महिलाएं इस दिन 16 श्रृंगार तो करें, लेकिन खुद को अधिक वजनीक साड़ी और गहनों में न बांधे. इस दिन हल्के और आरामदायक कपड़े ही पहनें. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×