scorecardresearch
 

Chardham Yatra 2022: खुल गए गंगोत्री धाम के कपाट, जानें-केदारनाथ धाम कब से खुलेगा?

Chardham Yatra 2022: चार धाम यात्रा आज से शुरू हो रही है. उत्तराखंड सरकार ने चार धाम यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों की संख्या तय कर दी है. सरकारी आदेश में कहा गया है कि रोजाना 15 हजार श्रद्धालु बद्रीनाथ के दर्शन कर सकेंगे. गंगोत्री धाम और यमुनोत्री धाम के कपाट आज खुल गए हैं जबकि केदारनाथ धाम के कपाट 6 मई और बद्रीनाथ धाम के कपाट 8 मई को खुलेंगे. चार धाम यात्रा में भारी तादाद में श्रद्धालुओं के आने का है अनुमान है क्योंकि आने वाले कई दिनों के लिए रेजिस्ट्रेशन पहले से ही फुल चल रहे हैं.

X
चार धाम यात्रा आज से शुरू चार धाम यात्रा आज से शुरू
स्टोरी हाइलाइट्स
  • चार धाम यात्रा आज से शुरू
  • खुल गए धाम के कपाट
  • भारी तादाद में श्रद्धालुओं के आने का अनुमान

Chardham Yatra 2022: देश भर में आज अक्षय तृतीया का पर्व मनाया जा रहा है. इस शुभ तिथि के अवसर पर आज से उत्तराखंड में चार धाम यात्रा शुरू हो रही है. कोरोना की वजह से पिछले 2 साल से चार धाम यात्रा बाधित रही. ऐसे में श्रद्धालुओं में ये यात्रा शुरू होने को लेकर काफी उत्साह है. उम्मीद जताई जा रही है कि इस बार भी देश के कोने-कोने से श्रद्धालु चार धाम की यात्रा करने पहुंचेंगे. भक्तों की यात्रा को आसान बनाने के लिए सरकार ने कोरोना टेस्ट और वैक्सीनेशन सर्टिफिकेशन की जांच को भी अनिवार्य नहीं किया है. 

कपाट खुलने का समय- गंगोत्री धाम के कपाट 3 मई यानी आज दिन में 11 बजकर 15 मिनट पर खुल गए. कपाट खुलने के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी शिरकत की. वहीं यमुनोत्री धाम के कपाट आज दोपहर 12 बजकर 15 मिनट पर खुले. कार्यक्रम के मुताबिक केदारनाथ धाम के कपाट 6 मई को सुबह 6 बजकर 25 मिनट पर खुलेंगे. वहीं बद्रीनाथ धाम के कपाट 8 मई को सुबह 6 बजकर 15 मिनट पर खुलेंगे. चार धाम यात्रा में भारी तादाद में श्रद्धालुओं के आने का है अनुमान है क्योंकि आने वाले कई दिनों के लिए  रेजिस्ट्रेशन पहले से ही फुल चल रहे हैं.

तीर्थयात्रियों की सीमित संख्या- उत्तराखंड सरकार ने आज से शुरू होने वाली चार धाम यात्रा के लिए तीर्थयात्रियों की संख्या तय कर दी है. सरकारी आदेश में कहा गया है कि रोजाना 15 हजार श्रद्धालु बद्रीनाथ के दर्शन कर सकेंगे. जबकि केदारनाथ में 12 हजार, गंगोत्री में 7 हजार और यमुनोत्री में 4 हजार श्रद्धालुओं को ही प्रतिदिन दर्शन करने की अनुमति होगी. यह समय सीमा पहले 45 दिन के लिए लागू की गई है. प्रदेश सरकार ने ये पाबंदियां कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से लगाई हैं. 

कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन- आप उत्तराखंड में चार धाम यात्रा के लिए पर्यटन विभाग द्वारा संचालित पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए उत्तराखंड सरकार ने यात्रियों के ठहरने की व्यवस्था, खान-पान और पार्किंग की पूरी व्यवस्था की है. श्रद्धालुओं को आगमन से पहले राज्य के पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने का भी निर्देश दिया गया है.

 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें