scorecardresearch
 

NIA को ट्रांसफर किया गया कन्हैया लाल मर्डर केस, उदयपुर कोर्ट ने सुनाया फैसला

राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्या का मामला NIA को ट्रांसफर कर दिया गया. उदयपुर डीजे कोर्ट ने ये फैसला सुनाया है. कोर्ट ने NIA के आवेदन पर ये फैसला सुनाया.

X
कन्हैया लाल की हत्या के आरोपी गौस मोहम्मद और रियाज कन्हैया लाल की हत्या के आरोपी गौस मोहम्मद और रियाज
स्टोरी हाइलाइट्स
  • उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्या का मामला
  • कोर्ट ने NIA के आवेदन पर ये फैसला सुनाया
  • गृह मंत्रालय ने NIA ने इस मामले में जांच अपने हाथ में लेने के लिए कहा था

राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्या का मामला NIA को ट्रांसफर कर दिया गया. उदयपुर डीजे कोर्ट ने ये फैसला सुनाया है. कोर्ट ने NIA के आवेदन पर ये फैसला सुनाया. 

दरअसल, उदयपुर में मंगलवार दोपहर दो युवकों मोहम्मद रियाज और गौस मोहम्मद ने टेलर कन्हैयालाल की धारदार हथियार से हमला कर हत्या का दी थी. आरोपी कपड़े सिलवाने के बहाने दुकान पर आए थे. इसके बाद दोनों आरोपियों ने वीडियो शेयर कर कहा कि उन्होंने इस्लाम के अपमान का बदला लेने के लिए कन्हैयालाल की हत्या की है. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. 

गृह मंत्रालय ने इस मामले में जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को अपने हाथ में लेने के लिए कहा था. दरअलस, इस घटना का लिंक पाकिस्तान से जुड़ रहा है. ऐसे में गृह मंत्रालय ने एनआईए को हर पहलू पर जांच करने का आदेश दिया है. 

पाकिस्तान में बैठे लोगों के संपर्क में थे आरोपी

हत्या का आरोपी गौस मोहम्मद पाकिस्तान में बैठे सलमान हैदर और अबू इब्राहिम के संपर्क में था. इसी ने रियाज अत्तारी का ब्रेनवॉश कर अपने साथ मिलाया था. 

सलमान हैदर ने ही गौस मोहम्मद को कट्टरपंथी बनाने के लिए ट्रेनिंग दी थी. वहीं, अबू इब्राहिम आतंकी गतविधियों में शामिल है. सलमान हैदर ने इब्राहिम से गौस मोहम्मद का संपर्क कराया. गौस के घर से जाकिर नाइक के भाषण भी मिले हैं. 

आईएस से कनेक्शन की हो रही जांच

बताया जा रहा है कि अभी तक की जांच में यह पुष्टि नहीं हो पाई है कि कन्हैया लाल के हत्यारे आईएस से संपर्क में थे या नहीं. अभी जांच जारी है. एनआईए दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है. ATS अधिकारियों के मुताबिक, अभी तक आरोपियों के मध्य प्रदेश के अल सूफा ग्रुप से कनेक्शन होने के सबूत भी नहीं मिले हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें