scorecardresearch
 

अजमेर जेल में नंगे पैर कैदियों की लाइन में दिखीं दो करोड़ की घूस लेकर फंसी ASP दिव्या मित्तल, Photos Viral

अजमेर सेंट्रल जेल से एक वीडियो वायरल हुआ है, जहां दो करोड़ रुपये की रिश्वत मामले में गिरफ्तार निलंबित पुलिस अधिकारी दिव्या मित्तल नंगे पैर अन्य कैदियों के साथ लाइन में खड़ी हैं. दिव्या 3 फरवरी तक न्यायिक हिरासत में ही रहेंगी. जयपुर ACB टीम ने अजमेर में 16 जनवरी को SOG की एडिशनल SP दिव्या मित्तल को गिरफ्तार था.

X
वर्दी में दिव्या, अब जेल में ऐसा है हाल
वर्दी में दिव्या, अब जेल में ऐसा है हाल

दो करोड़ रुपये की रिश्वत मामले में गिरफ्तार निलंबित पुलिस अधिकारी दिव्या मित्तल की जेल के अंदर की फोटो वायरल हो रही हैं. जहां वह सर्द भरे मौसम में अन्य महिला कैदियों के साथ नंगे पैर लाइन में खड़ी हैं. दिव्या मित्तल अजमेर सेंट्रल जेल में बंद है, यह फोटो उस समय की है जब महिला बंदी सुधार गृह का औचक निरीक्षण हुआ. दिव्या 3 फरवरी तक न्यायिक हिरासत में ही रहेंगी. जयपुर ACB टीम ने अजमेर में 16 जनवरी को SOG की एडिशनल SP दिव्या मित्तल को गिरफ्तार था. 

बता दें, सोमवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव रामपाल जाट अजमेर सेंट्रल जेल स्थित महिला बंदी सुधार गृह का निरीक्षण करने पहुंचे थे. इस निरीक्षण की फोटो जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने जारी की है.  इस फोटो में SOG की निलंबित एडिशनल एसपी दिव्या मित्तल भी आम महिला बंदियों की लाइन में खड़ी नजर आई. जानकारी के मुताबिक दिव्या अपने साथ कुछ किताबें लेकर आई हैं. जिन्हें पढ़कर वह जेल में अपना समय बिता रही हैं. 

अन्य कैदियों के साथ लाइन में लगी दिव्या मित्तल
अन्य कैदियों के साथ लाइन में लगी दिव्या मित्तल

 

दिव्या मित्तल की जमानत याचिका की अर्जी उनके वकील प्रीतम सिंह सोनी ने एसीबी के विशेष अदालत में लगाई थी. मंगलवार को एसीबी कोर्ट में दोनों पक्षों की बहस के बाद दिव्या मित्तल की जमानत अर्जी खारिज कर दी.  इस मामले में सरकार की तरफ से पैरवी एडवोकेट तनारायण चितारा ने की है. इस घूसखोर कांड में बर्खास्त कांस्टेबल सुमित की तलाश की जा रही है. दिव्या से रिमांड के दौरान लैपटॉप और कुछ अन्य इलेक्ट्रोनिक्स गैजेट्स बरामद किए गए हैं, इनकी एफएसएल से जांच कराई जाएगी. 

ये है पूरा मामला- 

अजमेर पुलिस ने साल 2021 में 16 करोड़ रुपये से ज्यादा की नशीली दवाओं की एक खेप पकड़ी थी. इसमें से जयपुर में साढ़े पांच करोड़ ओर अजमेर से 11 करोड़ रुपये की दवाओं के साथ आरोपी पकड़े गए थे. इस मामले में आरोपियों का नाम हटाने के बदले में दिव्या मित्तल पर रिश्वत मांगने के आरोप लगे. मामले में रिश्वत लेने की जानकारी एक शख्स ने 4 जनवरी को ACB को दी थी. जिसके बाद ACB ने कार्रवाई शुरू की.   

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें