scorecardresearch
 

वारदात: कोरोना को लेकर तिहाड़ जेल की तैयारी, बनाए जा रहे हैं आइसोलेशन वार्ड

कोरोना ने दुनिया के किसी कोने को नहीं छोड़ा. अलबत्ता कोरोना के चक्कर में ईरान को अपनी जेल में बंद करीब 70 हजार कैदियों को जरूर छोड़ना पड़ा. सिर्फ इस डर से कि कहीं जेल में कोरोना दाखिल हो गया तो कैदियों का क्या होगा? ईरान से दूर दिल्ली की तिहाड़ जेल को भी यही चिंता सता रही है. तिहाड़ जेल पिछले दो-तीन महीनों से लगातार सुर्खियों में है. क्योंकि इसी तिहाड़ की जेल नंबर तीन में निर्भया के चारों गुनहगारों यानी मुकेश, पवन, अक्ष्य और विनय को 20 मार्च की सुबह साढ़े पांच बजे फांसी दी जानी है. मगर फांसी से पहले तिहाड़ कोरोना को लेकर परेशान है. और परेशानी की सबसे बड़ी वजह है तिहाड़ में कैदियों की जबरदस्त भीड़. दिल्ली की सभी 16 जेलों में आइसोलेशन वार्ड बनाए जा रहे हैं. जेल में आने वाले हर नए कैदी की स्क्रीनिंग हो रही है. देखिए ये रिपोर्ट.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें