scorecardresearch
 

शंखनाद: UP में अब्बाजान पर सियासी घमासान, किसे नफा, किसे नुकसान?

शंखनाद: UP में अब्बाजान पर सियासी घमासान, किसे नफा, किसे नुकसान?

राजनीति में हर शब्द के अपने-अपने अर्थ होते हैं. अगर सूबा चुनावी हो तो किसी शब्द पर आर-पार की जंग छिड़ सकती है. कुछ ऐसा ही हाल इस वक्त यूपी में राजनीति का है, जहां सियासी घमासान में अब्बाजान छाए हुए हैं. कोई अब्बाजान जैसे शब्द के बहाने योगी आदित्यनाथ पर सवाल उठा रहा है तो कोई इसे बीजेपी की धर्म वाली राजनीति का रूप बता रहा है. सीएम योगी आदित्यनाथ की बोली से अब्बाजान वाला तंज निकला तो ये ध्रुवीकरण वाली सियासत की धुरी बन गया. तो ऐसे में सवाल ये है कि क्या अब्बाजान वाली सियासी तान यूपी में असर दिखाएगी और अब्बाजान वाली इस तान से किसको कितना नफा नुकसान होगा. देखिए शंखनाद का ये एपिसोड.

The political ruckus on CM Yogi's 'abbajan' remark is intensifying in the politics of Uttar Pradesh. Opposition is questioning the language of CM Yogi and alleging that the BJP is trying to build a polarizing environment as assembly polls near. Now the question is who will get the benefit with such statements, watch this episode of Shankhnaad to know.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें