scorecardresearch
 

Mission 2022: UP में जीत के लिए 2017 वाले फार्मुले को दोहराएगी BJP?

Mission 2022: UP में जीत के लिए 2017 वाले फार्मुले को दोहराएगी BJP?

कहते हैं उत्तर प्रदेश दिल्ली का दरवाजा है. जिसकी पकड़ यूपी में बन गई उसका दिल्ली का रास्ता आसान हो जाता है. अगले साल यूपी में विधानसभा चुनाव होने हैं और उससे पहले ही योगी और केंद्रीय नेतृत्व के बीच टकराव की खबरें आने लगी थीं. आज इन अटकलों पर एक तरह से विराम लगा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की है. इस मुलाकात के राजनीतिक मायने हैं. दरअसल इस बैठक को उत्तर प्रदेश कैबिनेट विस्तार की चर्चाओं के बीच जातीय समीकरणों को साधने वाला माना जा रहा है. 2014 लोकसभा हो या 2017 का यूपी विधानसभा, गैर यादव ओबीसी का जातीय आधार रखने वाले दलों ने बीजेपी की राह आसान की थी. बीजेपी अपने उसी फॉर्मूले को दोहराना चाहती है. इस समय यूपी में पार्टी की जातीय इंजीनियरिंग चल रही है. देखें खबरदार.

The 2022 Uttar Pradesh assembly election is closing in and Chief Minister Yogi Adityanath is believed to have received his brief from the BJP brass. Uttar Pradesh CM Yogi Adityanath met Amit Shah, JP Nadda and PM Narendra Modi. In Khabardar, watch how BJP is planning to win UP 2022.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें