scorecardresearch
 

Corona संकट का Peak कब, थम क्यों नहीं रही Covid-19 की रफ्तार? देखें खबरदार

Corona संकट का Peak कब, थम क्यों नहीं रही Covid-19 की रफ्तार? देखें खबरदार

क्या कोरोना का पीक अभी बाकी है. कब कोरोना महासंकट से छुटकारा मिलेगा? कब कुछ राहत की खबर आएगी? कब संक्रमण की रफ्तार कम होगी? कब नए केस कम होंगे? देश में 13 राज्य ऐसे हैं, जिनमें केस कम होने के शुरुआती संकेत मिले हैं. इनमें दिल्ली, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, पंजाब, झारखंड और उत्तर प्रदेश जैसे राज्य हैं. महाराष्ट्र में पीक आने की बात की जा रही है, क्योंकि कम से कम 12 जिले ऐसे हैं, जहां लगातार नए केस कम हो रहे हैं. ये भी आंकड़ा देखना जरूरी है कि देश के 22 राज्यों में पॉजिटिविटी रेट 15 परसेंट से ज्यादा है. 9 राज्यों में पॉजिटिविटी रेट 5 से 15 परसेंट के बीच है. सिर्फ 5 राज्य ऐसे हैं जहां पर पॉजिटिविटी रेट 5 परसेंट से कम है. जब ये 5 परसेंट से कम होता है तभी माना जाता है कि खतरा कम है? बिहार, राजस्थान, हरियाणा, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, केरल, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में अब भी नए केस लगातार बढ़ रहे हैं. आईआईटी कानपुर के विशेषज्ञों ने जो अनुमान लगाया है कि उसके मुताबिक यूपी में लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी जैसी जगहों पर संक्रमण का ग्राफ 20 मई के बाद कम होने लगेगा. एम्स के डायरेक्टर के मुताबिक मध्य भारत में 15 मई तक संक्रमण का ग्राफ नीचे आ सकता है. देखें खबरदार, चित्रा त्रिपाठी के साथ.

According to the health ministry, some states, including Delhi, Gujarat, Maharashtra, are showing early signs of plateauing or decrease in daily cases of Covid-19. It is too early to say that a slight dip in Covid cases indicating that the situation is under control. AIIMS Director Randeep Guleria also said that the second wave has not hit the peak yet and cases will go down from 15 May. Watch this episode of Khabardar.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें