scorecardresearch
 

हल्ला बोल: क्या लागू होना चाहिए Uniform Civil Code? देखें Delhi High Court ने क्या कहा

हल्ला बोल: क्या लागू होना चाहिए Uniform Civil Code? देखें Delhi High Court ने क्या कहा

देश मे यूनिफार्म सिविल कोड लागू होना चाहिए. आर्टिकल 44 में यूनिफार्म सिविल कोड की जो उम्मीद जतायी गयी थी अब उसे केवल उम्मीद नही रहना चाहिए बल्कि उसे हकीकत में बदल देना चाहिए. दिल्ली हाईकोर्ट ने ये टिप्पणी तलाक के एक मामले में फैसला सुनाते वक्त की. दरअसल, कोर्ट के सामने ये सवाल खड़ा हो गया था कि तलाक को हिन्दू मैरिज एक्ट के मुताबिक माना जाए या फिर मीणा जनजाति के नियम के मुताबिक. कोर्ट ने कहा आज का हिंदुस्तान धर्म, जाति, कम्युनिटी से ऊपर उठ चुका है. इस लिहाज से देश मे यूनिफार्म सिविल कोड लागू होना चाहिए. देखें वीडियो.

A Uniform civil code should be implemented in the country. Also, Article 44 should no longer remain only hope but it should be converted into reality. The Delhi High Court made this remark while delivering the verdict in a divorce case. Actually, the question arose before the court, while a hearing on divorce in Delhi High Court.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें