scorecardresearch
 

Nitin Gadkari की खरी-खरी, नेताओं की दुखती नब्ज को दबाती बात क्यों कह गए Transport Minister?

Nitin Gadkari की खरी-खरी, नेताओं की दुखती नब्ज को दबाती बात क्यों कह गए Transport Minister?

राजनीति में जहां नेता हर बात संभल कर कहते हैं. सीधे नहीं बोलते, बोलते हैं तो बाद में ये भी जरूर कहते हैं कि अरे मेरी बात का गलत मतलब निकाला गया. जहां मुख्यमंत्री, मंत्री अपनी कमियों को स्वीकार नहीं करते. वहां केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी की साफगोई वाला सत्य प्रसारण संसदीय लोकतंत्र में मजबूती के लिए कैसे दस्तक देता है, ये देखिए. संसदीय लोकतंत्र में जनता के हाथों चुने गए प्रतिनिधियों से जनता की अपेक्षाओं के मुद्दे पर देश में कहीं भी अगर कोई बातचीत, चर्चा, विमर्श हो, खासकर सरकारी तो उसके सौ फीसदी नीरस होने की ही गारंटी है. देखिए 10 तक में पूरी रिपोर्ट.

Union Minister Nitin Gadkari has said in a viral video that no politician is ever happy and even if he becomes the chief minister, he is always worried about how long it will last. The remarks came just days after former Gujarat CM Vijay Rupani quit and was replaced by Bhupendra Patel. But why do Nitin Gadkari has to say this bitter truth of politics? Watch this episode of 10 Tak.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें