scorecardresearch
 

दंगल: राशन बांटने में भूले समाजिक दूरी, भूख मिटाएंगे या कोरोना बढ़ाएंगे?

दंगल: राशन बांटने में भूले समाजिक दूरी, भूख मिटाएंगे या कोरोना बढ़ाएंगे?

देश में 31 मई तक लॉकडाउन है. देश में कोरोना के कुल मामले सवा लाख के पास जा चुके हैं. बीते चौबीस घंटे में संक्रमण की रफ्तार तेज हुई है और 6 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए हैं. इसके बावजूद सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ रही हैं. मुरादाबाद में समाजवादी पार्टी के विधायक ने राशन बांटने के नाम पर भीड़ इकट्ठा कर ली. उनके खिलाफ केस दर्ज हो चुका है. वहीं मोदीनगर में राशन बांटने पर बीजेपी और आम आदमी पार्टी के नेता आपस में भिड़ गए. लेकिन सबसे हैरान करने वाली तस्वीर दीन दयाल उपाध्याय नगर स्टेशन से सामने आई. श्रमिक स्पेशल के यात्रियों ने पानी के बोतलों की लूट मचा दी. इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ गईं. तो क्या भूख-प्यास लॉकडाउन पर भारी है और इसी का फायदा उठाते हुए राहत की सियासत हो रही है? लेकिन संक्रमण के बीच बड़ा सवाल यही है कि ये नेता राशन बांट रहे हैं या कोरोना?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें