scorecardresearch
 

Chhindwara: दूसरे समुदाय की लड़की को लेकर भागा था युवक, गांव वालों ने बीच सड़क मां-बेटे को पीटा

छिंदवाड़ा से दूसरे समुदाय के लड़के के साथ मारपीट की गई. लड़के पर आरोप है कि वो गांव की दूसरे समुदाय की लड़की को लेकर भाग गया था. लड़की के परिजनों की शिकायत के बाद पुलिस ने दोनों को हैदराबाद से बरामद किया था. लड़के का कहना है कि इसके बाद दोनों परिवारों में समझौता हो गया था. लेकिन कुछ समय बाद लड़की परिजनों ने उसके साथ मारपीट की.

X
मां-बेटे को गांव वालों ने बीच सड़क जमकर पीटा मां-बेटे को गांव वालों ने बीच सड़क जमकर पीटा

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में एक युवक को जमकर पीटा गया. बताया जा रहा है कि एक समुदाय का युवक दूसरे समुदाय की लड़की को लेकर भाग गया था. जिसके बाद लड़की के परिजनों ने थाने में मामला दर्ज कराया. जिस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने लड़की को प्रेमी के साथ हैदराबाद में बरामद किया था. जिसके बाद परिजनों ने लड़की को उसकी मौसी के घर चौरई क्षेत्र के ग्राम ओरिया में भेज दिया.  

बताया जा रहा है कि जब लड़के को इसकी जानकारी हुई तो वो लड़की से मिलने ओरिया पहुंच गया. वहां लड़की के मामा और गांव वालों ने मिलकर लड़के और उसकी मां से मारपीट की. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और किसी तरह से मामला शांत कराया. घायल लड़के को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया.

घटना के तीन दिन बाद किसी ने लड़के की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. इस मामले के बाद कुछ लोग गांव में सांप्रदायिक सद्भाव बिगड़ने की कोशिश करने लगे. जिसकी वजह से पूरे गांव में तनाव का माहौल पैदा हो गया. मामले की गंभीरता को देखते हुए इलाके में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया. मारपीट की यह घटना 15 सितंबर को हुई थी. 

इस मामले पर लड़के का कहना है कि वो अपनी बहन के घर जा रहा था. 15 तारीख को उसके हिर्री गांव के पास कुछ लोगों ने रोक किया और मोटरसाइकिल से नीचे गिरा दिया. मेरे और अम्मी, अब्बू के साथ भी मारपीट की गई. जो भी मामला था वो खत्म हो चुका था हमारा लड़की के परिवार वालों के साथ थाने में समझौता हो गया था. लड़की को मैंने अपने दिमाग से निकाल दिया था. फिर जबरन रास्ता रोकर हमारे साथ मारपीट की गई. 

वहीं इस मामले पर थाना प्रभारी शशि विश्कर्मा ने बताया कि 15 सिंतबर को करीब साढ़े 6 बजे पुलिस को सूचना मिली थी कि ग्राम ओरिया में विवाद हो रहा है. मौके पर पहुंचकर पता चला कि एक लड़का दूसरे समुदाय की लड़की को लेकर भाग गया था.

कुछ दिन दोनों को हैदराबाद से दस्तयाब किया गया था. फिर लड़की के परिजनों ने मामले को शांत कराने के लिए उसे मौसी के घर मे छोड़ दिया था. लड़का बोरिया आया तो उससे मिलने की कोशिश करने लगा. इस पर लड़की के परिजनों ने उसकी जमकर पिटाई कर दी. लड़के को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें