scorecardresearch
 

काला चश्मा लगाकर ट्रैक्टर चलाते हुए मंडप में पहुंची दुल्हन, देखते रह गए बाराती

Betul News: मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में हुई शादी चर्चा का विषय बनी हुई है. यहां एक दुल्हन शादी के मंडप में काला चश्मा लगाकर ट्रैक्टर चलाते हुए पहुंची. इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वहीं दुल्हन की ऐसी एंट्री को सभी देखते ही रह गए.

X
ट्रैक्टर पर सवार होकर पहुंची दुल्हन. ट्रैक्टर पर सवार होकर पहुंची दुल्हन.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • विदाई के बाद ट्रैक्टर से ही साथ गए दूल्हा-दुल्हन
  • मध्य प्रदेश के बैतूल में हुई शादी में दिखा अनोखा अंदाज

Betul News: मध्य प्रदेश के बैतूल में एक शादी में अनोखा नजारा देखने को मिला. आमतौर पर शादी की बात हो तो दूल्हा घोड़ी पर बैठकर पहुंचता है, लेकिन यहां शादी में न घोड़ी दिखी और न ही बग्घी. जब दुल्हन ने एंट्री की तो सब हैरान रह गए. दुल्हन काला चश्मा लगाकर ट्रैक्टर चलाते हुए मंडप में पहुंची. दुल्हन की ऐसी एंट्री देख सब देखते ही रह गए.

बैतूल में स्थित साईंखेड़ा क्षेत्र के गांव जावरा में शादी बाराती और रिश्तेदार पहुंच चुके थे. सभी दुल्हन के आने का इंतजार कर रहे थे. इसी बीच सभी को ट्रैक्टर की आवाज सुनाई दी. ट्रैक्टर पर काला चश्मा लगाए स्टेयरिंग संभाले दुल्हन ने प्रवेश किया. सभी रिश्तेदार और बाराती दुल्हन को देखते रह गए. दुल्हन के इस अंदाज का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

साईंखेड़ा क्षेत्र के ग्राम जावरा में निवासी और पेशे से इंजीनियर वासु कवडकर और दुल्हन भारती ताड़गे का विवाह बुधवार रात संपन्न हुआ. इस शादी में दुल्हन भारती शादी के मंडप में ट्रैक्टर चलाते हुए पहुंचीं थी.

यह भी पढ़ें: भुवनेश्वर: साइकिल पर दूल्हा, पैदल बाराती... बढ़ती तेल कीमतों के खिलाफ प्रोटेस्ट के लिए अपनाया अनोखा अंदाज

दुल्हन भारती ने कहा कि शादी में कार और डोली से एंट्री लेने का ट्रेंड पुराना हो गया है, इसलिए उसने सोचा कि वह खुद ट्रैक्टर चलाते हुए मंडप में जाएगी. भारती अपने घर से तैयार होकर ट्रैक्टर पर सवार हुईं और ट्रैक्टर चलाते हुए शादी के मंडप में पहुंच गईं.

ट्रैक्टर से ही विदाई हुई.

दुल्हन को शादी के मंडप में ट्रैक्टर पर बैठा देखकर बाराती और घराती हैरान रह गए. भारती ने बताया कि शादी एक बार होती है, ऐसे में मंडप में दुल्हन की एंट्री का ये यूनिक आइडिया शादी तय होने के बाद से ही सोच रही थी.

ट्रैक्टर चलाना जानती है भारती

दुल्हन ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में ट्रैक्टर आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं. वहीं वह ट्रैक्टर चलाना जानती भी है, इसलिए उसने सोचा कि वह अब शादी के मंडप में ट्रैक्टर से ही एंट्री लेगी.

भारती के पिता कैलास ताड़गे किसान हैं और उनकी बेटी भारती पोस्ट ग्रेजुएट हैं. भारती को ट्रैक्टर चलाना आता है. इसलिए उसने अपने होने वाले पति वासु से भी बात की थी. वासु ने भी इस बात को लेकर हामी भरी थी, जिसके बाद भारती ट्रैक्टर से मंडप में पहुंच गईं.

दुल्हन की रिश्तेदार सारिका बोड़खे ने बताया कि दुल्हन की ट्रैक्टर से मंडप में एंट्री सभी को खूब पसंद आई. यह एकदम नए प्रकार की एंट्री थी, जिसको लेकर सभी में भारी उत्साह देखा गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें