scorecardresearch
 

गर्भावस्था में महिलाओं को जरूर पीना चाहिए नारियल पानी

गर्भावस्था की पहली तिमाही में नारियल पानी के सेवन से सुबह के समय में जी मिचलाना, कब्ज और थकान दूर करने में तो मदद मिलती ही है, साथ ही यह प्रतिरोधक क्षमता सुधारने और शरीर में पानी की कमी को दूर करने में भी मदद करता है.

गर्भावस्था में नारियल पानी गर्भावस्था में नारियल पानी

गर्भावस्था में महिलाओं को कई तरह के पोषक तत्वों की जरूरत होती है. पोषक तत्वों की आवश्यकता न केवल गर्भवती महिला के लिए होती है बल्क‍ि गर्भ में पल रहे बच्चे का स्वास्थ्य भी इसी पर निर्भर करता है. ऐसे में नारियल पानी एक ऐसा तरल है जो गर्भवती महिला की पोषण से जुड़ी कई आवश्यकताओं को पूरा करने में उपयोगी है.

कोकोनट डेवलपमेंट बोर्ड के अनुसार, गर्भावस्था में नारियल पानी का सेवन शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स और तरल पदार्थो की मात्रा की दैनिक आवश्यकता की पूर्ति करने में मददगार है.

सीडीबी का कहना है कि नारियल पानी में चीनी, सोडियम और प्रोटीन के साथ ही इलेक्ट्रोलाइट्स, क्लोराइड्स, मैग्नीशियम, कैल्शियम, रिबोफ्लेविन और विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में होता है.

गर्भावस्था की पहली तिमाही में नारियल पानी के सेवन से सुबह के समय जी मिचलाना, कब्ज और थकान दूर करने में तो मदद मिलती ही है, साथ ही यह प्रतिरोधक क्षमता सुधारने और शरीर में पानी की कमी को दूर करने में भी मदद करता है. गर्भावस्था में ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ लेना भावी मां और बच्चे दोनों के लिए ही फायदेमंद होता है.

नारियल पानी शरीर में खून के स्तर को बढ़ाने, यूरिनल इंफेक्शन को दूर करने और ब्लड प्रेशर को कम करने में मददगार है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें