scorecardresearch
 
पर्यटन

Best Trek to do in July: वैली ऑफ फ्लॉवर्स से ब्यास कुंड तक, इन 7 जगहों पर लें मॉनसून ट्रेक का मजा

भारत
  • 1/10

भारत में कई ऐसी जगहें हैं जो अपनी खूबसूरती के लिए विश्व विख्यात हैं. यहां के झरनों से गिरता पानी और बर्फ से ढके पहाड़ बेहद मनमोहक नजर आते हैं. मॉनसून के महीने में (जुलाई-अगस्त और सितंबर)  लोग बरसात का लुत्फ उठाने और ट्रेकिंग करने के लिए अपनी मनपसंद जगहों पर जाना पसंद करते हैं. ऐसे में अगर आप भी ट्रेकिंग करने के शौकीन हैं, तो आइए जानते हैं इन खूबसूरत जगहों के बारे में जो ट्रेकिंग के लिए बेस्ट मानी जाती हैं.

photo credit- pixabay

फूलों की घाटी
  • 2/10

फूलों की घाटी- उत्तराखंड राज्य के गोविंद घाट में स्थित फूलों की घाटी या वैली ऑफ फ्लॉवर्स ट्रेकिंग करने के लिए बेस्ट मानी जाती है. जुलाई, अगस्त और सितंबर के महीने पर्यटक यहां घूमने के लिए आते हैं और ट्रेकिंग करना पसंद करते हैं. इस घाटी में हर सप्ताह अलग-अलग रंगों के फूल खिलने का सिलसिला शुरू होता है. यहां गुलाबी, पीले, लाल और कई रंगों बेहद खूबसूरत फूल खिलते हैं. इस ट्रेक को पूरा करने में लगभग 6 दिनों का समय लग सकता है. इस ट्रेक को बिना ज्यादा कठिनाई के पूरा किया जा सकता है.

photo credit- getty images

तरसर मार्सर1
  • 3/10

तरसर मार्सर- तरसर मार्सर भारत के सुंदर ट्रेकों में से एक है. लोगों को इन झीलों का खूबसूरत नजारा कश्मीर ग्रेट लेक्स से भी ज्यादा लुभाता है. ये झील जम्मू-कश्मीर की अरु घाटी में स्थित है. नीले रंग की इन झीलों के पास शिविर लगाकर लोग ट्रेकिंग करते हैं. हालांकि, इस जगह ट्रेकिंग करने के लिए आप पहले से अंदाजा नहीं लगा सकते है कि कहां ट्रेकिंग करनी है. क्योंकि कभी ये झीलें बहते पानी की तरह नजर आती हैं तो कभी ये बर्फ से ढकी हुई दिखाई देती हैं.

photo credit- getty images

तरसर मार्सर2
  • 4/10

तरसर मार्सर धरती पर स्वर्ग देखने के समान है. इस ट्रेक को पूरा करने के लिए लगभग 6 से 7 दिनों का समय लगता है. ये ट्रेक भी बहुत मुश्किल नहीं है.

photo credit- pixabay

कश्मीर ग्रेट लेक्स1
  • 5/10

कश्मीर ग्रेट लेक्स- आमतौर पर, ज्यादा ऊंचाई वाले ट्रेक से एक या दो झीलों को देखना सामान्य है. लेकिन कश्मीर ग्रेट लेक्स ट्रेक पर, सात अल्पाइन झीलें दिखाई देती हैं. ये हर बार अपनी विशालता और सुंदरता से सभी को आश्चर्यचकित करती हैं. जम्मू-कश्मीर के गगनगीर क्षेत्र में स्थित ये देश का सबसे खूबसूरत ट्रेक माना जाता है. इन झीलों का नजारा बेहद खूबसूरत लगता है. इसके अलावा, मॉनसून के ठीक बाद हरी-भरी धरती पर छोटे-छोटे फूल अपनी ओर आकर्षित करते हैं. इस ट्रेक में झीलों के अलावा, मेपल के पेड़ और सतसर के मैदान विशेष आकर्षण के केंद्र हैं.

photo credit- getty images

कश्मीर ग्रेट लेक्स2
  • 6/10

कश्मीर ग्रेट लेक्स ट्रेक को पूरा करने में लगभग 7 दिन का समय लगता है. इस ट्रेक का रास्ता ना ज्यादा कठिन है और ना ही ज्यादा आसान. इस पर ट्रेकिंग करने के लिए ज्यादा मुश्किलों का सामना नहीं करना पड़ता है.

photo credit- pixabay

पिन भाभा पास
  • 7/10

पिन भाभा पास- हिमालय की गोद में बर्फ की पहाड़ियों से ढकी हुई पिन भाबा ट्रेक सबसे मुश्किल ट्रेक में से एक है. इस ट्रेक को पूरा करने में लगभग 9 दिन लग सकते हैं. इस ट्रेक पर आपको प्रकृति के कई सुंदर नजारे देखने को मिल सकते हैं. एक तरफ स्पीति घाटी के पहाड़ वहीं दूसरी ओर हरी भरी भाबा घाटी का मनमोहक दृश्य देख सकते हैं.

photo credit- getty images

भृगु झील
  • 8/10

भृगु झील- भृगु झील ट्रेकिंग करने वालों के लिए काफी पसंदीदा जगह है. भृगु झील के पूरे ट्रेक में लगभग 4 दिनों का समय लग सकता है. इस दौरान पर्यटकों को देवदार के जंगल और खूबसूरत पहाड़ों का सुंदर दृश्य देखने को मिलता है. मॉनसून में ट्रेकिंग करने वाले लोगों के लिए मनाली का ये बेस्ट ट्रेक है.

photo credit- getty images

हम्पटा पास
  • 9/10

हम्प्ता पास- हम्प्ता पास हिमाचल की फूलों की घाटी कही जाती है. ये हिमाचल के मनाली क्षेत्र में स्थित है. हरी-भरी इस घाटी के चारों ओर बर्फ से ढके पहाड़ हैं जो इसे और भी खूबसूरत बनाते हैं. इस ट्रेक को पूरा करने में 5 से 6 दिन का समय लगता है. ट्रेकिंग करते समय आपको बर्फ से ढके पहाड़, फूलों की घाटी और स्पीति के बंजर और उबड़ खाबड़ रास्ते मिलेंगे. ट्रेक में चंद्रताल की कैम्पिंग भी शामिल है. ये भी बहुत मुश्किल ट्रेक नहीं है.

photo credit- getty images

ब्यास कुंड
  • 10/10

ब्यास कुंड- ब्यास कुंड एडवेंचर ट्रेक माना जाता है. मनाली से बहने वाली ब्यास नदी में जाकर ये कुंड मिलता है. हनुमान टिब्बा, फ्रेंडशिप पीक और शितिधर जैसी अद्भुत पहाड़ की चोटियां इस ट्रेक पर आपको देखने को मिलती हैं. इसके अलावा, माउंट इंद्रसेन, देव टिब्बा और पीर पंजाल रेंज आदि चोटियां भी दिखाई देती हैं. इस ट्रेक को पूरा करने में लगभग 4 दिन का समय लगता है.

photo credit- getty images