scorecardresearch
 

बेटी को पता चले मां के सीक्रेट, शादी के बाद यूं बर्बाद हुई जिंदगी

महिला ने रिलेशनशिप पोर्टल पर मां के साथ अपने रिश्ते की सच्चाई बयां करते हुए एक्सपर्ट से राय मांगी है. महिला ने लिखा, 'मैंने सालों सें अपनी मां के राज लोगों से छिपा कर रखे हैं. मां के कई सारे एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स रहे हैं और एक मैं ही थी जो उनका ये राज जानती थी. वो मुझे ये बताने में कभी नहीं झिझकती थीं कि वो किसी दूसरे पुरुष के साथ कैसा महसूस करती थीं.

बेटी ने सालों से मां के राज लोगों से छिपाए रखे बेटी ने सालों से मां के राज लोगों से छिपाए रखे
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मां ने बेटी को बताए थे अपने सीक्रेट
  • पिता से भी हुआ अलगाव
  • मां के राज जानने से बेटी के मन में आई खटास

मां-बेटी का रिश्ता बहुत अटूट और विश्वास वाला होता है. बेटियां मां को अपनी सहेली समझती हैं और दिल की हर बात उनके सामने रख देती हैं. हालांकि, लंदन की एक मां-बेटी का रिश्ता इसके ठीक उलट है. महिला ने रिलेशनशिप पोर्टल पर मां के साथ अपने रिश्ते की सच्चाई बयां करते हुए एक्सपर्ट से राय मांगी है. महिला ने लिखा, 'मैंने सालों सें अपनी मां के राज लोगों से छिपा कर रखे हैं. मां के कई सारे एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स रहे हैं और एक मैं ही थी जो उनका ये राज जानती थी. वो मुझे ये बताने में कभी नहीं झिझकती थीं कि वो किसी दूसरे पुरुष के साथ कैसा महसूस करती थीं.

महिला ने लिखा, 'मां हमेशा से मेरे पिता को नजरअंदाज करती थीं. मां हमेशा मुझे बताती थीं कि पिता के साथ उनका रिश्ता कितना खराब है और वो जिंदगी में निराश महसूस करती हैं. मां के अफेयर्स की कहानियां मैं 10 साल की उम्र से सुनती आ रही हूं. उन्होंने मुझे मेरे पिता से भी अलग कर दिया था. मेरी उम्र अब 50 साल की हो चुकी है. पूरे परिवार और मां के दोस्तों के बीच उनकी छवि बहुत अच्छी और विनम्र स्वभाव वाली महिला की है. इतना ही नहीं, मेरी बेटी भी उन्हें अपना आदर्श मानती है. अपनी ग्रेजुएशन सेरेमनी में भी बेटी ने मेरी मां को बुलाया है और टिकट ना बचने की वजह से मैं वहां नहीं जा सकती. मैं अब जिंदगी के इस मुकाम पर पहुंच चुकी हूं जहां मैं अपनी मैं मां से सारे रिश्ते खत्म करना चाहती हूं.

मैं खुशनसीब हूं कि मैं अपने बच्चों, पति और दोस्तों के साथ एक सुखी जीवन बिता रही हूं लेकिन मां के साथ मेरा रिश्ता मुझे जहरीला लगता है. मेरी चिंता ये है कि उनके साथ संबंधों को खत्म करने के लिए मुझे लोगों को इसकी वजह बतानी पड़ेगी. लोग उन्हें आदर्श महिला मानते हैं इसलिए लोग मेरी बातों पर भरोसा नहीं करेंगे. मैं अपने बच्चों के सामने उनके राज नहीं खोलना चाहती हूं और ना ही उनकी छवि खराब करना चाहती हूं लेकिन मुझे समझ नहीं आ रहा कि मैं किस तरीके से उन्हें अपनी जिंदगी से दूर करूं.

एक्सपर्ट ने महिला को सलाह देते हुए लिखा, 'आपकी मां ने खुद को हल्का रखने के लिए अपने सार राज का बोझ आप पर डाल दिया. निश्चित रूप से आपने बहुत कुछ झेला है. इतना ही नहीं, आपको आपके पिता से भी अलग कर दिया गया. क्या आप अपनी मां को बता सकती हैं कि उनकी इन हरकतों ने आपको किस तरह प्रभावित किया है. आपको बताना चाहिए कि बेटी की ग्रेजुएशन सेरेमनी में आपकी जगह उनके जाने पर आपको कैसा महसूस हो रहा है. आपको ये सारी बातें उनसे खुलकर करनी चाहिए थीं. उम्र के इस मोड़ पर भी आप मां के अफेयर्स के बारे में भूल नहीं पाई हैं. आपके मां के नजरिए से देखा जाए तो हो सकता है कि आपको भरोसमंद का स्थान देकर वो आपके साथ अपने रिश्ते को बेहतर बना रही थीं जो कि गलत था. रिश्तों को संभाल कर रखने का ये सही तरीका नहीं है. अपने मन का बोझ हल्का करने के लिए उनकी वो सारी बातें जो आपको परेशान कर रही हैं, उन्हें एक पन्ने पर लिख सकती हैं. दोस्त या थेरेपिस्ट से मदद लेने से भी आप बेहतर महसूस करेंगी.

 

 


आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें