scorecardresearch
 

अाप ताे करती हैं प्यार लेकिन वो करता है सिर्फ पसंद

क्या तुमने कभी किसी से प्यार किया? कभी किसी को दिल दिया? पर फिर भी प्यार एकतरफा होकर रह गया. कुछ होते हैं ऐसे भी जो कमिटमेंट के इस खेल में उतरने से कतराते हैं. सिंगल रहना आजादी का सिंबल जो बन चुका है. लेकिन सिंगल रहने की इस दौड़ में ज्यादातर लड़के ही नजर आते हैं.

X
Symbolic Image
Symbolic Image

क्या तुमने कभी किसी से प्यार किया? कभी किसी को दिल दिया? पर फिर भी प्यार एकतरफा होकर रह गया. कुछ होते हैं ऐसे भी जो कमिटमेंट के इस खेल में उतरने से कतराते हैं. सिंगल रहना आजादी का सिंबल जो बन चुका है. लेकिन सिंगल रहने की इस दौड़ में ज्यादातर लड़के ही नजर आते हैं. डेटिंग के दौरान लडकियां ज्यादा जल्दी कमिटमेंट दिखाती हैं, लेकिन लड़के कन्फ्यूजन में फंसे रहते हैं.

कमिटमेंट से दूर भागते लड़कों को पहचानने में लड़कियों को कोई खास मशक्कत नहीं करनी होती. कुछ खास बातों पर गौर करने से आप अंदाजा लगा सकती हैं कि लड़का कमिटमेंट नहीं चाहता है, जैसे:

1. वो ऑफिशियली आपको अपनी गर्लफ्रेंड बनाने से कतराता है.
2. वो बार बार यही जिक्र करता है कि उसका काम उसके लिए जरूरी है और उसे अपने करियर पर फोकस करना है.
3. वो अपने दोस्तों और फैमिली से आपको नहीं मिलवाता है.
4. वो पहले से किसी चीज की प्लानिंग नहीं करके रखता है, बल्कि आखिरी समय में सारे प्लान्स बनाता है.
5. डेटिंग के लिए वीकेंड्स पर सबसे ज्यादा समय मिलता है, लेकिन वो वीकेंड्स पर ही आपके साथ नहीं होता.
6. वो इमोशनल नहीं है.
7. वो और भी कई लड़कियों से दोस्ती और बातचीत रखता है.

एक लड़की के लिए शायद यह सबसे ज्यादा तकलीफदेह होता है कि जिस लड़के पर वो अपना समय और अपने इमोशन्स इन्वेस्ट कर रही है, वो रिलेशनशिप को लेकर सीरियस ही नहीं है. ऐसे में लड़की को पता ही नहीं होता कि आखिरकार वो उस लड़के की लाइफ में कहां स्टैंड करती है. मन में बस एक ही उलझन, कि वो पसंद तो करता है लेकिन प्यार और उसके इजहार से बचता फिरता है.

जरूरी नहीं कि ऐसा हमेशा ही देखने को मिले. कई बार कोई लड़का अपने काम के प्रेशर में उलझा होता है, या फिर अपनी एक्स-गर्लफ्रेंड से धोखा खाए होता है. ऐसे केस में भी वो कमिटमेंट से कतराता है. तो ऐसे में लड़के के मन को टटोलिए. शायद वो फिजिकल रिलेशनशिप से भी कुछ ज्यादा एक्सपेक्ट करता हो. उसके साथ इमोशनल बॉन्डिंग के पैंतरे अपनाइये. ऑफिस के टाइम से लेकर खाने पीने तक अपनी फिक्र जताइए.

जब आप अपने समय, अपनी एनर्जी और अपने इमोशन्स किसी लड़के में झोंक चुकी हैं, तो फिर पीछे हट जाना ठीक नहीं. अपनी पसंद के लड़के की जरूरतों को समझिए. और अगर कमिटमेंट का सवाल है, तो आप ही पहल कर दीजिये.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें