scorecardresearch
 

Arranged marriage: अरेंज मैरिज के लिए हां बोलने से पहले जरूर पूछ लें ये 3 बातें, नहीं तो पड़ेगा पछताना

भारत में ज्यादातर लोग अरेंज मैरिज करना पसंद करते हैं. ये हमारी संस्कृति का अहम हिस्सा है. प्यार हो या डेटिंग लेकिन शादी के समय ज्यादातर लोग माता-पिता की पसंद की तरफ जाते हैं. अरेंज मैरिज को सफल बनाने के लिए जरूरी है कि आप कुछ बातों पर शादी से पहले ही खुलकर बात कर लें.

X
अरेंज मैरिज की बात आगे बढ़ाने से पहले कुछ मुद्दों पर खुलकर बात करनी जरूरी है अरेंज मैरिज की बात आगे बढ़ाने से पहले कुछ मुद्दों पर खुलकर बात करनी जरूरी है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अरेंज मैरिज से पहले कुछ बातों पर गौर करना जरूरी
  • पार्टनर से अपने अतीत पर खुलकर करें बात
  • फाइनेंस और जिम्मेदारियों पर भी करें चर्चा

भारत में ज्यादातर लोग अरेंज मैरिज को ही प्राथमिकता देते हैं. अरेंज मैरिज में दूल्हा-दुल्हन को मिलाने का काम दोनों परिवार की तरफ से किया जाता है. कई लोगों को शुरुआत में ये थोड़ा अजीब लग सकता है लेकिन जैसे-जैसे बात आगे बढ़ती है, कई चीजें समझ में आने लगती हैं. अरेंज मैरिज में बात बढ़ाने से पहले लड़का-लड़की आमतौर पर परिवार और करियर के बारे में ही बात करते हैं लेकिन कई ऐसी छोटी-छोटी बातें भी होती हैं जिन पर ध्यान नहीं देते हैं. अरेंज मैरिज में पार्टनर के साथ खुशहाल जिंदगी चाहते हैं तो इन 3 बातों पर पहले ही बात कर लेना जरूरी है.

फाइनेंशियल कम्पैटबिलटी यानी पैसों पर बात- आज के समय में भावनाओं पर ध्यान देना जितना जरूरी है उतना ही पैसे-रुपए के मामले पर भी समझ दिखाना जरूरी है. अगर आप दोनों वर्किंग है तो अरेंज मैरिज की बात आगे बढ़ाते समय इस मुद्दे पर भी खुलकर बात करें. जैसे कि शादी के बाद आप अपने खर्चों को किस तरह बाटेंगे? क्या आप खर्चों को आधा-आधा बांटना पसंद करेंगे या फिर एक की सैलरी खर्च और दूसरे की सैलरी से सेविंग हों, ऐसा हिसाब रखना चाहेंगे. अगर आप महिला हैं और शादी के बाद भी अपने माता-पिता का खर्च उठाना चाहती हैं तो अपने होने वाले पार्टनर को इसकी जानकारी पहले ही देना बेहतर होगा. अगर आप वर्किंग नहीं हैं तो भी अपने होने वाले पति से इस बारे में बात कर सकती हैं कि शादी के बाद पैसे-रुपयों के मामले में आप किस तरह की आजादी चाहती हैं.

अतीत के बारे में पूरी जानकारी दें- अरेंज मैरिज में बात आगे बढ़ाने से पहले होने वाले पार्टनर को अपने अतीत के बारे में सही जानकारी दें. जैसे कि अगर आपकी सगाई टूटी हो या तलाक हुआ हो जैसी बातें पहले ही खुल कर लेना सही रहता है. अनकही बातें छोड़ देने से पति-पत्नी के बीच आगे चलकर चीजें खराब हो सकती है. हो सकता है जो राज आप बताना ना चाह रहे हों, वो शादी के बाद उन्हें किसी और से पता चल जाए. ऐसी स्थिति में रिश्ते में दरार आ सकती है.

घरेलू काम पर चर्चा भी है जरूरी- ज्यादातर परिवारों में ये उम्मीद की जाती है कि शादी के बाद महिलाएं ही घर की जिम्मेदारियां निभाएंगी. जैसे कि खाना पकाना, सफाई करना और कपड़े धोने जैसे घरेलू काम. अगर आप वर्किंग वूमन हैं तो शादी से पहले इन जिम्मेदारियों पर बात करना बुद्धिमानी होगी. आप होने वाले पार्टनर को पहले ही खुल कर बता दें कि आप किन जिम्मेदारियों को निभाना चाहती हैं और किन्हें नहीं.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें