scorecardresearch
 

128 साल की महिला ने ये दो चीजें खाकर पाई इतनी लंबी उम्र! बचपन में भूनकर खाती थीं टिड्डियां

साउथ अफ्रीका में एक ऐसी महिला भी हैं, जिन्हें दुनिया का सबसे अधिक उम्र का जीवित इंसान माना जा रहा है. इस महिला ने 11 मई 2022 को अपना 128वां जन्मदिन मनाया है. इनका जन्म 1894 में हुआ था. इनकी लंबी लाइफ का सीक्रेट क्या है, इस बारे में आर्टिकल में जानेंगे.

X
128 साल की जोहाना माजिबुको (Image credit: Twitter) 128 साल की जोहाना माजिबुको (Image credit: Twitter)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 128 की बुजुर्ग महिला
  • 11 मई 1894 को हुआ था जन्म
  • 2 चीजों से मिली लंबी उम्र

गलत खानपान और खराब लाइफस्टाइल की वजह से लोगों को कम उम्र में ही कई सारी बीमारियां घेर लेती हैं. इनमें से कई लोगों को जानलेवा बीमारियों से भी गुजरना पड़ता है. इसकी वजह से कई बार इंसान की समय से पहले मौत हो जाती है. हालांकि कुछ लोग ऐसे हैं जो अपने सही डाइट और लाइफस्टाइल के कारण लंबी उम्र पा लेते हैं. ऐसी ही एक महिला है, जिसने हाल ही में 11 मई को अपना 128वां जन्मदिन मनाया है. 

दावा किया जा रहा है कि ये अभी दुनिया की सबसे अधिक उम्र की जीवित इंसान हैं. 11 मई 1894 को साउथ अफ्रीका में जन्मी जोहाना माजिबुको (Johanna Mazibuko) का जन्म मक्के के खेत में हुआ था और ये 12 भाई-बहन में सबसे बड़ी हैं.

टिड्डियां भूनकर खाती थीं जोहाना

(Image Credit : Twitter)

जोहाना ने स्थानीय मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में बताया था, 'हमारा परिवार अनपढ़ था और हम खेतों में काफी समय बिताते थे. मुझे अच्छी तरह से याद है, जब मैं छोटी थी तब खेतों पर टिड्डियों का हमला हुआ करता था. हम उन टिड्डियों को पकड़ कर उन्हें भूनते थे और फिर खा लेते थे. लेकिन जैसे-जैसे मैं बड़ी होती गई, मैं दूध और जंगली पालक खाने लगी.  

जोहाना ने आगे कहा, 'अब मैं आज के समय का खाना खाती हूं लेकिन मैं बचपन के अपने उस खाने (दूध और जंगली पालक) को बहुत मिस करती हूं. मेरी शादी एक बूढ़े व्यक्ति से हुई थी, जिनका नाम मेस्टवाना माजिबुको (Stawana Mazibuko) था. मेरे पति की पहली पत्नी की मौत हो गई थी. मेरे पति के पास काफी सारी गाय और घोड़े का अस्तबल था.  मेरे पति और उसकी पहली पत्नी मेस्टवाना के 7 बच्चे थे, जिनमें से 2 आज भी जिंदा हैं. मेस्टवाना और मेरे 2 बच्चों के अलावा मेरे लगभग 50 पोते-परपोते भी हैं.

फॉर्म पर काम करती थीं जोहाना

जोहाना ने बताया, 'शादी के बाद मैं फॉर्म पर काम किया करती थी. मैंने खेतों पर काम के अलावा सफाई और कपड़ों को प्रेस करने का भी काम किया. मेरा मानना है कि जब तक किसी के पास पैसे नहीं होते, उसे काफी स्ट्रगल करना होता है. हालांकि मैं अभी ठीक से सुन नहीं सकती लेकिन देख सब लेती हूं.'

शरीर में आ गई है अकड़न

जोहाना का कहना है कि उनका शरीर अब अकड़ने लगा है और उन्हें चलने में कठिनाई होने लगी है. उन्होंने कहा, 'जब मैं लोगों को चलता हुआ देखती हूं तो मुझे भी लगता है कि काश मैं भी उनकी तरह चल सकूं. मेरे पास मेरी एक केयर टेकर है जो 2001 से मेरे साथ है. वह मेरे लिए इतनी खास हो गई है कि जब तक वह पास नहीं होती, तब तक मुझे नींद भी नहीं आती.'

जोहाना के करीबी बताते हैं कि उनके पास जोहाना की आईडी है और उस आधार पर गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स बुक में जोहाना का नाम दर्ज होना चाहिए, ताकि उन्हें उचित सम्मान मिल सके. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें