scorecardresearch
 

लाखों खर्च करके महिला ने बनवाए थे 40 टैटू, हटाए तो बच्चों ने ही नहीं पहचाना

The girl with the tattoos : टैटू बनवाने का हर किसी को शौक होता है. देश-विदेश में कई ऐसे लोग हैं, जिन्हें उनके अजीबो-गरीब टैटू के कारण पहचान मिली है. ऐसी ही एक लड़की ने भी अपने शरीर पर काफी सारे टैटू बनावाए थे, लेकिन उसके साथ जो हुआ वह काफी आश्चर्यजनक था.

(Image Credit : Getty images) (Image Credit : Getty images)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आजकल टैटू बनवाने का काफी चलन है
  • एक लड़की को टैटू के कारण पहचान मिली
  • शरीर पर बनवाए थे 40 टैटू

आज के समय में टैटू (Tattoos) बनवाने का क्रेज बन गया है. बॉलीवुड स्टार्स से लेकर आम लोग तक, हर कोई टैटू बनवा रहा है. मार्केट में कई तरह के टैटू बनाए जाते हैं. कुछ टैटू सीमित समय के लिए होते हैं तो कुछ परमानेंट होते हैं. कुछ लोग अपने चेहरे, जीभ पर भी टैटू बनवा लेते हैं. इंडिया के साथ विदेशों में भी कई ऐसे टैटू वाले लोग हैं, जो अक्सर अपनी विचित्र पसंद और जीवन शैली के लिए सुर्खियों में बने रहते हैं. हाल ही में ऐसा हुआ एक 23 साल की लड़की के साथ, जिसमें टैटू के कारण उसके ही बच्चे उसे नहीं पहचान पाए. 

क्या है पूरा मामला

(Image Credit: Instagram/amiee_inked)

एमी स्मिथ (Aimee Smith) जिसकी उम्र 23 साल है, जो कि ओखम, ईस्ट मिडलैंड्स (England) की रहने वाली हैं. उनके 2 लड़के हैं, बड़े लड़की की उम्र 6 साल है जिसका नाम एलिजा है और छोटे बेटे की उम्र 1 साल है और उसका नाम रेमी है. 

एमी को बचपन से ही टैटू बनवाने का काफी शौक था, इस कारण उसने 14 साल की उम्र से ही टैटू बनवाना शुरू कर दिया था. फिर धीरे-धीरे टैटू के लिए उसका क्रेज बढ़ता गया और उसने अलग-अलग तरह के टैटू बनावाना शुरू कर दिए. फिर धीरे-धीरे उसके शरीर पर 40 टैटू बन चुके थे. 

एमी के यह टैटू चेहरे, कंधे, आंख के पास, पीठ, चेस्ट, हाथ, पैर सभी जगह थे. जब एमी को लगा कि उसकी पहचान उसकी जगह उसके टैटू से हो रही है तो उसने टैटू को हटवाने का फैसला किया और जब वह टैटू कवर-अप 'उपचार' के बाद वापस आई तो उसके बच्चे भी एमी यानी अपनी मां को पहचानने में असफल रहे.

टैटू वाली लड़की के नाम से जानते थे सभी

बच्चों ने एमी को हमेशा से ही टैटू के साथ देखा था फिर जैसे ही एमी ने अपने शरीर से टैटूज हटवाए तो उनका नया रूप बच्चों के सामने आया. जिस कारण वे अपनी मां को पहचान ही नहीं पा रहे थे.

एमी ने डेली स्टार से बात करते हुए बताया कि "मैं बहुत असहज महसूस कर रही थी. क्योंकि अपने आपको बिना टैटू के शीशे में देखना ऐसा था जैसे मैं किसी और को देख रही हूं. मेरी मां मेरा नया रूप देखकर रो पड़ी थीं. एमी ने खुलासा किया कि उनका सबसे छोटा बच्चा उन्हें पहचान नहीं पाया, क्योंकि उनके शरीर से सभी टैटू हटे हुए थे और उनका बेटा पहली बार उन्हें बिना टैटू के देख रहा था."

एमी ने आगे बताया कि मैं काफी छोटे शहर में रहती हूं और हर कोई मुझे सिर्फ मेरे रूप-रंग (टैटू) से जानता है. वे मेरा नाम नहीं जानते, सिर्फ मुझे 'टैटू वाली लड़की' (The girl with the tattoos) के नाम से जाना जाता है.

तारीफ भी मिली और ताने भी

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by 𝕬𝖒𝖎𝖊𝖊⚜𝕴𝖓𝖐𝖊𝖉 (@amiee_inked)

एमी ने बताया कि कई बार मुझे मेरे टैटू के कारण तारीफ भी मिली और कई बार ताने भी मिले. एक किस्सा शेयर करते हुए एमी ने कहा कि एक बार मैं बच्चे के स्कूल गई थी, उस समय कुछ लोगों ने मुझसे बात की थी और मेरे टैटू की तारीफ की थी, इसके बाद उन्होंने कहा था कि हम भी आपके जैसे टैटू बनावाएंगे.

वहीं एक बार मैं अपने बच्चे के साथ जा रही थी तो कुछ लोगों ने मेरे टैटू पर कमेंट किया था, जिसे मेरे बेटे ने सुन लिया था. इसके बाद मेरे बेटे ने भी एक टैटू बनवाया था. मैं अब जो भी हूं, काफी खुश हूं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×