scorecardresearch
 

Omicron: काढ़ा पीकर इम्यूनिटी बढ़ाने वाले अक्सर करते हैं ये 5 गलतियां, शरीर पर पड़ेगा उल्टा असर

डॉक्टर्स का कहना है कि काढ़ा बनाते वक्त जानें-अनजाने अक्सर लोग ऐसी गलतियां करते हैं जिससे शरीर पर उसका उल्टा ही असर होने लगता है. इम्यूनिटी बढ़ाने वाले काढ़े में अगर गुणकारी तत्वों की सही मात्रा का ख्याल ना रखा जाए तो उसके नुकसान भी झेलने पड़ सकते हैं.

X
Omicron: काढ़ा पीकर इम्यूनिटी बढ़ाने वाले अक्सर करते हैं ये 5 गलतियां, शरीर पर होगा उल्टा असर Omicron: काढ़ा पीकर इम्यूनिटी बढ़ाने वाले अक्सर करते हैं ये 5 गलतियां, शरीर पर होगा उल्टा असर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इम्यूनिटी को इम्प्रूव करता है काढ़ा
  • काढ़े में काली मिर्च, दाल चीनी और गिलोय की मात्रा का रखें ख्याल

हमारा इम्यूनिटी सिस्टम शरीर को बीमारियों से लड़ने की ताकत देता है. इसलिए कोरोना वायरस का खतरा बढ़ते ही डॉक्टर्स लोगों को काढ़ा पीने की सलाह देते हैं जो इम्यूनिटी को इम्प्रूव करता है. डॉक्टर्स का कहना है कि काढ़ा बनाते वक्त जानें-अनजाने अक्सर लोग ऐसी गलतियां करते हैं जिससे शरीर पर उसका उल्टा ही असर होने लगता है. इम्यूनिटी बढ़ाने वाले काढ़े में अगर गुणकारी तत्वों की सही मात्रा का ख्याल ना रखा जाए तो उसके नुकसान भी झेलने पड़ सकते हैं.

1.नएक्सपर्ट का कहना है कि काढ़ा पीने वालों की उम्र, मौसम और हेल्थ को मॉनिटर करना बहुत जरूरी है. रेगुलर काढ़ा पीने वाले कमजोर स्वास्थ के लोगों को कई बड़ी दिक्कत हो सकती हैं. नाक से खून, मुंह छाले, एसिडिटी, पेशाब आने में समस्या और डाइजेशन की समस्या आपको घेर सकती है. ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए.

2. काढ़ा बनाने में अक्सर लोग काली मिर्च, दालचीनी, हल्दी, गिलोय, अश्वगंधा, इलायची और सोंठ का इस्तेमाल करते हैं. ये सभी चीजें आपके शरीर को काफी गर्म कर देती हैं. शरीर का तापमान अचानक बढ़ने से नाक से खून या एसिडिटी जैसी समस्याएं हो सकती हैं.

3. काढ़ा बनाने के लिए आप जिन चीजों का इस्तेमाल कर रहे हैं, उनकी मात्रा में संतुलन होना जरूरी है. अगर काढ़ा पीने से आपको कोई परेशानी हो रही है तो उसमें दालचीनी, काली मिर्च, अश्वगंधा और सोंठ की मात्रा कम ही रखें.

4. सर्दी या जुकाम से परेशान लोगों के लिए काढ़ा बड़ा फायदेमंद माना जाता है. हालांकि कुछ लोगों को इसमें बड़ी सतर्कता बरतनी चाहिए. खासतौर से उन लोगों को जिन्हें पित्त की शिकायत है. इन लोगों को काढ़े में काली मिर्च, सोंठ और दालचीनी का इस्तेमाल करते वक्त खास सावधानी बरतनी चाहिए.

5. यदि आप काढ़े का रेगुलर इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं तो उसे कम मात्रा में लेना ही सही होगा. काढ़ा बनाते वक्त बर्तन में सिर्फ 100 मिलीलीटर पानी डालें. फिर जरूरी चीजों को मिलाने के बाद उसे तब तक उबालें जब तक काढ़ा 50 मिलीलीटर यानी आधा ना हो जाए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें