scorecardresearch
 

Women Health: महिलाओं को भूलकर भी नहीं खानी चाहिए ये 7 चीजें, सेहत पर डालती हैं गलत असर

Women Health: सेहत अच्छी रखने के लिए अच्छे फूड का सेवन करना जरूरी होता है. एक्सपर्ट हमेशा हेल्दी फूड्स खाने की सलाह देते हैं. महिलाओं को भी अनहेल्दी फूड खाने से बचना चाहिए. कुछ फूड आइटम्स महिलाओं की सेहत के लिए खराब माने जाते हैं. इस आर्टिकल में उन फूड्स के बारे में जानेंगे जिनका सेवन करने से बचना चाहिए.

X
(Image credit: Pixabay) (Image credit: Pixabay)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महिलाओं को अनहेल्दी फूड नहीं खाना चाहिए
  • अनहेल्दी फूड्स-ड्रिंक सेहत पर गलत असर डालती हैं
  • एक्सपर्ट इन फूड्स को न खाने की सलाह देते हैं

खाने की कुछ चीजें सेहत के लिए अच्छी मानी जाती हैं तो कुछ खराब. इसलिए एक्सपर्ट हमेशा ऐसे फूड्स खाने की सलाह देते हैं, जिनसे शरीर को फायदा मिले और जिससे सेहत सही रहे. जहां शरीर को फायदा पहुंचाने वाले फूड्स की लिस्ट लंबी है, वहीं नुकसान पहुंचाने वाले फूड्स की भी लिस्ट छोटी नहीं है. अगर महिलाओं की बात की जाए तो एक्सपर्ट महिलाओं को कुछ खास फूड न खाने की सलाह देते हैं. इसका कारण है कि ये फूड्स महिलाओं की सेहत के लिए अच्छे नहीं माने जाते. अब वे कौन से फूड या खाद्य पदार्थ हैं, जिनका महिलाओं को सेवन नहीं करना चाहिए, इस बारे में जान लीजिए.

1. बिना फैट वाला दही (Fat-free Yogurt)

दही खाना हर किसी को पसंद होता है. लेकिन महिलाओं को बिना फैट वाला दही न खाने की सलाह दी जाती है. मार्केट की बिना फैट वाली दही में चीनी की मात्रा काफी ज्यादा होती है, जिससे ब्लड शुगर लेवल और इंसुलिन बढ़ जाती है. ह्यूमन रिप्रोडक्शन जर्नल में पब्लिश हुई एक स्टडी के मुताबिक, जिन महिलाओं ने लो फैट वाले डेयरी प्रोडक्ट का अधिक मात्रा में सेवन किया था, उनमें ओवुलेटरी इनफर्टिलिटी का खतरा 85 प्रतिशत अधिक था. इसलिए बेहतर होगा फुल-फैट वाला प्लेन दही या ग्रीक योगर्ट का सेवन करें.

2. सफेद ब्रेड (White Bread)

व्हाइट ब्रेड रिफाइंड कार्ब है और हमारा शरीर रिफाइंड कार्ब को चीनी की तरह लेता है. रिफाइंड कार्ब में फाइबर बिल्कुल भी नहीं होता  है. ऐसे कार्ब्स ब्लड शुगर की मात्रा बढ़ाते हैं और इंसुलिन लेवल में वृद्धि करते हैं. यह उन महिलाओं के लिए समस्या पैदा कर सकता है जो कि पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम या पीसीओएस से पीड़ित हैं. 

3. डाइट सोडा (Diet Soda)

डाइट-सोडा में कैलोरी कम हो सकती है लेकिन उसमें कैमिकल और प्रिजर्वेटिव्स काफी अधिक मात्रा में पाए जाते हैं. यह सेहत के लिए बिल्कुल भी अच्छे नहीं होते. जर्नल ऑफ द अमेरिकन जेरियाट्रिक्स सोसाइटी में पब्लिश हुई स्टडी के मुताबिक, जो लोग नियमित रूप से डाइट सोडा पीते थे, उन लोगों में सोडा न पीने वालों की तुलना में 9 साल के समय में पेट की चर्बी 3 गुना अधिक थी. 

4. फलों का रस (Fruit juice)

फ्रूट जूस हेल्दी होता है लेकिन इसमें चीनी मात्रा भी काफी होती है. हार्ट डिसीज के मामले में महिलाओं की संख्या अधिक होती है. हर 4 में से 1 महिला की हार्ट संबंधित बीमारी से ही मौत होती है. इसलिए महिलाओं को फलों का जूस अधिक पीने से बचना चाहिए. क्लिनिकल कार्डियोलॉजिस्ट और नैनो हेल्थ एसोसिएट्स के सह-संस्थापक एडम स्प्लेवर (Adam Splaver) के मुताबिक, कोई भी चीज जिसमें ग्लूकोज, फ्रुक्टोज या किसी भी प्रकार की चीनी होती है, आपके हार्ट के लिए खराब होती है क्योंकि इससे शरीर में सूजन बढ़ती है और सूजन से हार्ट समस्याएं होती हैं. अच्छा होगा इसकी जगह साबुत फल खाएं.

5. कॉफी क्रीमर (Coffee creamer)

अक्सर मार्केट में कॉफी के ऊपर सफेद रंग की क्रीम डालकर दी जाती है, जिससे उसका टेस्ट बढ़ जाता है. यह कॉफी क्रीमर ट्रांस फैट का सोर्स होता है, जिसे बनाते समय हाइड्रोजन ऑयल मिलाए जाते हैं. इन संसाधित किए हुए पदार्थ में ट्रांस फैट की मात्रा हार्ट को नुकसान पहुंचाती है. इसलिए कभी भी कॉफी के ऊपर क्रीमर डालकर सेवन न पिएं. 

6. शराब (Alcohol)

एपिडेमियोलॉजी जर्नल में पब्लिश हुई स्टडी के मुताबिक, जो महिलाएं प्रतिदिन कम से कम 1 गिलास अल्कोहल का सेवन करती हैं उनमें शराब न पीने वाली महिलाओं की तुलना में बांझपन का खतरा 50 प्रतिशत अधिक होता है. इसलिए जितना हो सके अल्कोहल के सेवन से दूर रहें.

7. रेड मीट (Red Meat)

यदि कोई महिला रेड मीट का रोजाना सेवन करती है तो यह प्रेग्नेंट होने की क्षमता पर नेगेटिव प्रभाव डाल सकता है. हार्वर्ड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के रिसर्चर्स द्वारा जिन महिलाओं ने सबसे अधिक एनिमल प्रोटीन खाया था, उनमें 39 प्रतिशत अधिक फर्टिलिटी की समस्या थी. इसलिए महिलाओं को कम से कम रेड मीट का सेवन करना चाहिए. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें