scorecardresearch
 

आधी रात को भूलकर भी नहीं करनी चाहिए ये सात हरकतें

हममें से बहुत से लोग ऐसे हैं जो सोना तो बहुत चाहते हैं लेकिन चैन की नींद सो नहीं पाते हैं. अच्छी नींद की कमी से एक ओर जहां चिड़चिड़ापन होने लगता है वहीं ऊर्जा में भी कमी आ जाती है.

X
midnight midnight

हममें से बहुत से लोग ऐसे हैं जो सोना तो बहुत चाहते हैं लेकिन चैन की नींद सो नहीं पाते हैं. अच्छी नींद की कमी से एक ओर जहां चिड़चिड़ापन होने लगता है वहीं ऊर्जा में भी कमी आ जाती है. कई बार इसके लिए हमारी कुछ अजीबोगरीब हरकतें भी जिम्मेदार होती हैं.

अगर आप भी मध्यरात्र‍ि में कुछ ऐसी हरकतें करते हैं तो अब भी वक्त है संभल जाइए, इससे पहले कि आपकी लाइफस्टाइल आपसे आपका सबकुछ छीन ले.

अगर आप ये पूछें कि रात को हेल्दी क्या करना चाहिए तो इसका एक सीधा सा जवाब है कि सिर्फ सोना. आप रात के वक्त कितनी अच्छी नींद ले रहे हैं, इससे आपका आने वाला पूरा दिन प्रभावित होता है. पर अगर आप मध्यरात्रि में ये काम करते हैं तो संभल जाइए:

1. सिगरेट पीना
निकोटिन से नींद पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है. निकोटिन लेने के कई घंटों तक आप जगे ही रह जाते हैं. इससे आपके दिमाग और शरीर दोनों को ही आराम नहीं मिल पाता है. बीच रात में सिगरेट पीने से नींद की प्रक्रिया पर बुरा प्रभाव पड़ता है.

2. शराब पीना
अगर आप मध्यरात्रि में शराब पीते हैं तो आपकी सुबह बिल्कुल भी अच्छी नहीं होगी. जितनी अधिक मात्रा आप लेंगे उतनी ही बुरी आपकी सुबह होगी.

3. कैफीन का सेवन
कैफीन को किसी भी रूप में रात के समय या आधी रात को लेना सही नहीं है. अगर आप आधी रात को कैफीन ले रहे हैं तो इसका सीधा मतलब है कि आपने अपनी नींद को कुछ घंटों के लिए टाल दिया है. हम सभी की नींद की एक साइकिल होती है जिसे नियत रखना बहुत जरूरी है.

4. बीच रात को उठकर मीठे स्नैक्स खाना
रात के वक्त कोशिश की जानी चाहिए कि मीठे स्नैक्स न ही खाएं. ऐसा करने से हमारे शरीर में कैलोरी की एक बहुत बड़ी मात्रा तो जाती है लेकिन उसका कोई दोहन नहीं हो पाता है. ऐसे में वजन बढ़ने की आशंका बहुत अधिक बढ़ जाती है.

5. बहुत अधिक मसालेदार खाना
देर रात या फिर मध्य रात्र‍ि में बहुत अधिक स्पाइसी खाना खाने से बचना चाहिए. ऐसा करने से गैस की समस्या हो जाती है और पेट से जुड़ी परेशानियों की वजह से नींद में व्यवधान आ जाता है.

6. टीवी देखना
देर रात तक टीवी देखना स्वास्थ्य के लिहाज से बहुत ही गलत है. चैनल बदलने के दौरान ये याद ही नहीं रह जाता है कि समय बीतता जा रहा है. इससे आंखों पर तो अतिरिक्त दबाव पड़ता ही है साथ ही दिमाग को भी आराम नहीं मिल पाता है.

7. काम करना और उसके बारे में सोचना
देर रात तक जगना और ऑफिस के काम को घर पर निपटाना या फिर काम के बारे में ही सोचते रहना भी नींद खराब करता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें