scorecardresearch
 

पानी पीने से बेहतर है कि आप पानी खाएं...

खाने की ऐसी चीजें जिसमें पानी की बहुत अधिक मात्रा होती है, उसमें कुछ ऐसे कण पाए जाते हैं जो आसानी से कोशिकाओं द्वारा अवशोषित कर लिए जाते हैं. ये कण एक लंबे समय तक हमारे शरीर में मौजूद रहते हैं जिससे लंबे समय तक पोषण बना रहता है.

पानी पिएं नहीं, खाएं पानी पिएं नहीं, खाएं

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि पानी पीने से कहीं बेहतर है कि हम पानी खाएं. उनके अनुसार, पानी पीने से कहीं ज्यादा अच्छा होगा कि हम पानी से भरपूर ज्यादा से ज्यादा चीजों को खाएं.

उनकी मानें तो जब हम पानी पीते हैं तो वो सीधे हमारे पाचन तंत्र से होकर गुजर जाता है जिससे विटामिन और लवणों का बहुत सा पोषण नहीं मिल पाता लेकिन जब हम पानी से भरपूर कोई चीज खाते हैं तो हमारी कोशिकाओं को विटामिन और लवणों का पोषण भरपूर मात्रा में मिल जाता है.

हेल्दी हाइड्रेशन से मतलब उस पानी से है जो हमारे शरीर में जमा रहता है न कि वो पानी जो हम पीते हैं और सीधे शरीर के बाहर निकल जाता है. हॉवर्ड यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के डॉक्टर मुरद के अनुसार, खाने की ऐसी चीजें जिसमें पानी की बहुत अधिक मात्रा होती है, उसमें कुछ ऐसे कण पाए जाते हैं जो आसानी से कोशिकाओं द्वारा अवशोषित कर लिए जाते हैं. ये कण एक लंबे समय तक हमारे शरीर में मौजूद रहते हैं जिससे लंबे समय तक पोषण बना रहता है.

इसके साथ ही जब हम पानी खाते हैं तो हमारे शरीर में पानी धीरे-धीरे करके जाता है जो सीधे पानी पीने से कहीं बेहतर है. पानी का अवशोषण जितना धीरे होगा, उतने ही लंबे समय तक वो हमारे शरीर में बना रहता है, जोकि सेहत के लिए हर लिहाज से अच्छा है.

दिनभर में हम जो पानी पीते हैं उसका एक-चौथाई हिस्सा खाने की चीजों से आता है. हालांकि हर खाने में कुछ न कुछ मात्रा में पानी मौजूद रहता ही है लेकिन जरूरी है कि आप उन चीजों को डाइट में शामिल करें जिनमें पानी की ज्यादा मात्रा हो.

फलों और सब्ज‍ियों में पानी की सबसे अधिक मात्रा होती है. फलों और सब्जियों में इतना पानी होता है कि उनके सेवन से एक गिलास पानी पीने जितना फायदा होता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें