scorecardresearch
 

क्या आपके घर में भी कोई सुपारी चबाता है?

भारतीय समाज में बहुत से शुभ कार्यों में सुपारी का इस्तेमाल किया जाता है. पर आपको ये जानकर हैरानी हो सकती है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक बताया है.

सुपारी सुपारी

भारतीय समाज में बहुत से शुभ कार्यों में सुपारी का इस्तेमाल किया जाता है. पर आपको ये जानकर हैरानी हो सकती है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक बताया है. हमारे देश में तो इसका इस्तेमाल धड़ल्ले से किया जाता है. हर पान की दुकान पर आपको ये बिकता मिल जाएगा.

पान बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाली दूसरी चीजों में से एक प्रमुख चीज सुपारी भी है. पान-मसालों के अलावा कुछ लोग इसे यूं भी चूने के साथ खाना पसंद करते हैं. स्वास्थ्य के लिहाज से बेहद खतरनाक होने की वजह से दुनिया के कई देशों में इसका इस्तेमाल प्रतिबंधित है.

इसके इसतेमाल से कैंसर होने का खतरा काफी बढ़ जाता है. डॉक्टरों को मानना है कि इसे पान-मसालों में से हटा दिया जाना चाहिए. सुपारी खाने से कई तरह के स्वास्थ्य संकट पैदा हो सकते हैं:

1. कैंसर
कई अध्ययनों में कहा गया है कि सुपारी का सेवन करने से कैंसर होने का खतरा बहुत अधिक बढ़ जाता है. सुपारी में वो सभी तत्व मुख्य रूप से पाए जाते हैं जो कैंसर के लिए उत्तरदायी होते हैं. इससे सबसे अधिक मुंह के कैंसर के होने का खतरा बढ़ जाता है.

2. दिल संबंधी बीमारियां
कई अध्ययनों में पाया गया है कि सुपारी खाने से हार्ट से जुड़ी कई तरह की बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है. साथ ही ये मोटापा भी बढ़ाता है.

3. दांत खराब हो जाना
नियमित रूप से सुपारी खाने से मसूड़ों ढीले पड़ जाते हैं और दांतों का इनेमल भी प्रभावित होता है. समय रहते अगर सुपारी खाना नहीं छोड़ा गया तो दांत हमेशा के लिए लाल और बाद में काले हो जाते हैं.

4. रासायनिक प्रभाव
इसमें कई विषाक्त तत्व हो सकते हैं. हो सकता है कि ये शरीर में पहुंचकर दूसरे तत्वों के साथ क्रिया करके कुछ ऐसी गैसों और रासायनिक पदार्थों का स्त्रावण करे जो स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हों.

5. दूसरे दुष्प्रभाव
हर रोज सुपारी का इस्तेमाल करने से ये एक नशे की तरह साथ जुड़ जाता है. डॉक्टर भी न चबाने की हिदायत देते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें