scorecardresearch
 

अकेले रहने वालों को अक्सर हो जाती है दिल से जुड़ी बीमारियां

लंबे समय तक अकेले रहने या सामाजिक रूप से अलग-थलग रहने से दिल से जुड़ी बीमारियों के होने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है.

X
अकेलापन हो सकता है खतरनाक अकेलापन हो सकता है खतरनाक

हम सभी की जिंदगी में कभी न कभी एक वक्त ऐसा आता है जब हम खुद को बिल्कुल अकेला महसूस करते हैं. हमें ये लगने लगता है कि हमारे लिए इस पूरी दुनिया में कोई है ही नहीं लेकिन क्या आप जानते हैं लंबे समय तक अकेले रहना खतरनाक हो सकता है.

हाल में हुए एक शोध के मुताबिक, लंबे समय तक अकेले रहने या सामाजिक रूप से अलग-थलग रहने से दिल से जुड़ी बीमारियों के होने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है. अकेलापन स्ट्रोक का कारण हो सकता है.

शोध के अनुसार, अकेलेपन और सामाजिक रूप से अलग-थलग रहने से दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा 29 फीसदी और स्ट्रोक का खतरा 32 फीसदी बढ़ जाता है.

योर्क, लिवरपूल और न्यूकैसल विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के मुताबिक, उच्च आय वाले देशों में स्ट्रोक और दिल की बीमारी को रोकने के लिए अकेलापन और सामाजिक अलगाव पर ध्यान देना चाहिए.

जर्नल हर्ट में प्रकाशित इस शोध में कहा गया है कि समाजिकता को बढ़ावा देना ही सबसे बड़ी चुनौती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें